01nn10भोपाल, 1 सितम्बर.राजधानी में होने वाले विश्व हिन्दी सम्मेलन को लेकर राज्य शासन ने तैयारियां तेज कर दी है. इसी कड़ी में सम्मेलन संबंधी व्यवस्थाएं दुरूस्त करने के लिए प्रशासकीय अमले को मुस्तैदी से काम करने में लगा दिया है.

शहर को हिन्दी मय बनाने और शहर को सुंदर बनाने के लिए अलग-अलग विभागों की गठित अमले द्वारा जोर शोर से काम किया जा रहा है. इसी कड़ी में मुख्य सचिव अन्टोनी डिसा और सांसद एवं उपाध्यक्ष प्रबंध समिति दसवां विश्व हिन्दी सम्मेलन अनिल दवे ने आज लाल परेड ग्राउण्ड पहुँचकर विश्व हिंदी सम्मेलन की तैयारियों की जानकारी प्राप्त की. मुख्य सचिव ने कलेक्टर भोपाल और कमिश्नर भोपाल संभाग सहित अन्य अधिकारियों से सम्मेलन के आयोजन स्थल, मंच व्यवस्था, सम्मेलन के लिए सत्रवार की गई तैयारियों की जानकारी प्राप्त की. मुख्य सचिव ने कहा कि विश्व हिंदी सम्मेलन प्रतिष्ठापूर्ण आयोजन है. इसकी सभी व्यवस्थाएँ बहुत बेहतर होना चाहिए. इस अवसर पर पुलिस महानिदेशक सुरेंद्र सिंह, विजेश लूनावत, संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे.

यह भी कहा- बैठक में सिंह ने कहा कि सम्मेलन में आने वाले अतिविशिष्ट, विशिष्ट अतिथियों को एयरपोर्ट एवं रेलवे स्टेशन से होटल तक पहुंचाने का मार्ग सुसज्जित एवं आकर्षक होना चाहिए. सड़कें दुरूस्त होना चाहिए, रास्ते में गडडे नहीं हों. सड़कों के किनारे लगने वाले फलैग, होर्डिग्स, प्रतीक चिन्ह, स्वागत होर्डिग्स आदि की व्यवस्था ठीक हो, बैठक में कलेक्टर ने बताया कि भोपाल रेल्वे स्टेशन से अतिथियों की अगवानी हिन्दी विश्वविद्यालय के कार्यकर्ता करेंगे. उनकी सूची तथा अतिथियों की सूची पुलिस विभाग को दी जायेगी.

Related Posts: