18nn13भोपाल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पुलिसकर्मियों के लिये हर साल पाँच हजार आवासीय इकाई बनेंगी.उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश पुलिस की उपलब्धियाँ गर्व करने योग्य हैं.चाहे डकैत समस्या का खात्मा हो या नक्सलवाद पर नियंत्रण या आतंकवाद को उखाड़ फेंकना, मध्यप्रदेश पुलिस ने अभूतपूर्व काम किया है.मध्यप्रदेश को शांति का टापू बनाने का श्रेय पुलिस को जाता है.

चौहान आज यहाँ भारत भवन में तीन दिवसीय पुलिस कला महोत्सव का शुभारंभ कर रहे थे.इसका आयोजन भारतीय पुलिस सेवा संघ ने किया है.चौहान ने सामुदायिक पुलिसिंग को बढ़ावा देने की जरूरत बताते हुए कहा कि समाज और पुलिस एक दूसरे के पूरक हैं और दोनों की एक दूसरे के प्रति जिम्मेदारियाँ और कर्त्तव्य हैं.समाज को भी पुलिस की कठिनाइयाँ समझकर सकारात्मक सहयोग करना चाहिये.पुलिस और पब्लिक के बीच की दूरी कम होना चाहिये.
यह सृजनात्मक पहल

पूर्व पुलिस महानिदेशक एम. नटराजन ने उदघाटन सत्र की अध्यक्षता की.म.प्र. पुलिस आवास निगम के अध्यक्ष ऋ षि कुमार शुक्ला ने कहा कि पुलिस कला महोत्सव पुलिस परिवार को जोडऩे की सृजनात्मक पहल है.
कलाधर्मिता को प्रोत्साहन मिलेगा

पुुलिस महानिदेशक, योजना पवन जैन ने कहा कि पुलिसकर्मियों में कलाबोध होता है लेकिन समयाभाव के कारण अभिव्यक्त नहीं हो पाता.इस पहल से कलाधर्मिता को प्रोत्साहन मिलेगा.