mp1भोपाल, साथी हाथ बढ़ाना.हम होंगे कामयाब. जैसे प्रेरणादायी गीतों को गुनगुनाते हुए रविवार को उज्जैन के अंगारेश्वर से लेकर सिद्धवट तक हजारों लोग श्रमदान करते हुए क्षिप्रा शुद्धिकरण अभियान में शामिल हुए.सफाई अभियान में महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने भी श्रमदान किया.

उन्होंने शुद्धिकरण अभियान की प्रशंसा की.अभियान में विधायक डॉ. मोहन यादव, महिला सशक्तिकरण के प्रमुख सचिव श्री जे.एन. कंसोटिया, आयुक्त एकीकृत बाल विकास सेवा श्रीमती पुष्पलता सिंह और कलेक्टर श्री कवीन्द्र कियावत भी शामिल हुए. महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने कहा कि उज्जैन सम्पूर्ण विश्व के लिये आस्था का सबसे महत्वपूर्ण केन्द्र है.उन्होंने कहा कि सिंहस्थ के दौरान वैचारिक विमर्श होगा.

इससे निकलने वाले निष्कर्ष से सम्पूर्ण विश्व को नई दिशा मिलेगी. श्रीमती सिंह ने कहा कि सिंहस्थ के दौरान महिला-बाल विकास की भूमिका महत्वपूर्ण होगी.सिंहस्थ अवधि में महिला सुरक्षा के लिये शौर्या-दल के सदस्य तैनात रहेंगे.

दल के सदस्यों को पुलिस के सहयोग से प्रशिक्षित किया जा रहा है. सिंहस्थ के दौरान महिला सशक्तिकरण का प्रचार-प्रसार भी विभाग करेगा.मेला क्षेत्र में खोया-पाया केन्द्र स्थापित किये जायेंगे.शुद्धिकरण अभियान में बड़ी संख्या में नागरिक शामिल हुए और उन्होंने हस्ताक्षर कर शुद्ध क्षिप्रा का संकल्प लिया.

Related Posts: