kejriwalनयी दिल्ली,   राजधानी में प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए निजी चार पहिया वाहनों को सम और विषम नंबर से चलाने की योजना की आज औपचारिक घोषणा की गयी। इसका उल्लंघन करने वालों पर दो हजार रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा। महिला चालक और उसके साथ 12 वर्ष तक के बच्चों को छूट दी गई है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज इसकी घोषणा करते हुए कहा कि अधिसूचना सोमवार को जारी कर दी जाएगी और सरकार इसे परीक्षण के तौर पर एक से 15 जनवरी तक फिलहाल लागू करेगी। दुपहिया वाहनों को इससे अलग रखा गया है। सम तिथि को सम नंबर और विषम तिथि को विषम नंबर की गाडियों को चलाने की अनुमति होगी। रविवार को कोई प्रतिबंध नहीं होगा। रोजाना सुबह आठ बजे से रात के आठ बजे तक यह लागू रहेगा।

इस मौके पर उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया भी मौजूद रहे। इस दायरे में राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्य न्यायाधीश, लोकसभा अध्यक्ष, राज्यों के राज्यपाल, केन्द्रीय मंत्री, लोकसभा और राज्यसभा में विपक्ष के नेता और लोकायुक्त जैसे प्रतिष्ठित लोगों की गाड़ियां नहीं आएगी लेकिन दिल्ली के मुख्यमंत्री के वाहन पर यह प्रतिबंध लागू होगा।

श्री केजरीवाल ने बताया कि सरकार सार्वजनिक परिवहन को मजबूत और बेहतर बनाने पर भी जोर दे रही है। लोगों को दिक्कत नहीं हो, इसके लिए चार से पांच हजार नयी और अतिरिक्त बसें सड़कों पर लायी जाएगी। दस हजार नए ऑटो को परमिट दिए जाएंगे और मेट्रो रेल सेवा के फेरे बढायें जाएंगे। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे दिल्ली की आबोहवा से प्रदूषण कम करने के लिए अपना योगदान दें और कार पूलिंग पर विशेष जोर दें।

Related Posts: