नयी दिल्ली,

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दलितों, पिछड़े तबकों और वंचितों के हकों के लिए सरकार की प्रतिबद्धता दोहराते हुए आज कहा कि इसके लिए उसके प्रयास निरन्तर जारी रहेंगें।

श्री मोदी ने यहां बहुचर्चित डा. अंबेडकर अंतरराष्ट्रीय केंद्र का उद्घाटन करने के बाद एक समारोह में कहा कि सरकार दलित, वंचित और पिछड़े वर्ग के प्रतिकों को फिर से स्थापित कर रही है।

श्री मोदी ने कांग्रेस का नाम लिए बगैर कहा कि आजादी के बाद एक “परिवार” के लिए डा. बी आर अंबेडकर के विचारों को दबाने की कोशिश की गयी लेकिन हमारी सरकार ने इसे नाकाम कर दिया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज डा. अंबेडकर के समर्थकों की संख्या इस परिवार के समर्थकों से ज्यादा है।

प्रधानमंत्री ने अपनी सरकार की विभिन्न योजनाओं और कार्यक्रमों का उल्लेख करते हुए कहा कि उनकी सरकार डा. अंबेडकर की सामाजिक लोकतंत्र के सपनों को पूरा कर रही है। नया भारत डा. अंबेडकर के सपनों के अनुरुप होगा।

उन्होंने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का नाम लिए बगैर कहा कि उनको डा. अंबेडकर से संबंधित योजनाओं और कार्यक्रमों की भी जानकारी भी नहीं होगी। “वैसे उनको आजकल बाबा साहेब नहीं बाबा भोले ज्यादा याद आ रहे हैं।”

Related Posts: