nitishसीएम नीतीश ने निशाना साधते हुए कहा कि मोहन भागवत के बयान मामले पर पीएम की चुप्पी इस बात को बल देती है कि उनकी सरकार संघ के दबाव में चल रही है और आरक्षण व्यवस्था पर पुनर्विचार कर रही है।

Related Posts: