salahuddin700नई दिल्ली, 5 जुलाई. भारत की खुफिया एजेंसी रिसर्च एंड एलालिसिस विंग (रॉ) के पूर्व प्रमुख ए.एस. दौलत ने कहा है कि प्रतिबंधित हिजबुल मुजाहिदीन का प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन आज भी भारत लौटना चाहता है।

उन्होंने खेद प्रकट किया कि सरकार ने उसकी वापसी की योजना का खाका तैयार करने में काफी समय गवां दिया। कश्मीर द वाजपेयी इयर्स नामक अपनी पुस्तक में दौलत ने लिखा 2001 में सलाहुद्दीन वापस लौटने को तैयार था और मैंने सैकड़ों बार इसकी वकालत की। संभवत: मेरे बाद के रॉ प्रमुख विक्रम सूद के अन्य हित थे और उनके लोगों ने सोचा कि चूंकी मैं सामान्य तौर पर कश्मीर का मामला प्रधानमंत्री कार्यालय से देखता था इसलिए उनका इस मामले में शामिल होना जरूरी नहीं है।

Related Posts: