बेंगलरु,

सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की देश की दूसरी बड़ी कंपनी इंफोसिस लिमिटेड ने श्री सलिल एस पारेख को अपना प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त करने की घोषणा की है।

कंपनी के निदेशक मंडल की आज यहां हुयी बैठक के जारी बयान में यह जानकारी दी गयी है। इसमें कहा गया है कि श्री पारेख की नियुक्त दो जनवरी 2018से प्रभावी होगी। उनकी नियुक्ति पांच वर्षाें के लिए की गयी है। श्री पारेख का दुनिया भर में आईटी क्षेत्र में काम करने का करीब तीन दशक का अनुभव है। श्री पारेख की नियुक्ति शेयरधारकों के अनुमान और नियामकों की मंजूरी पर निर्भर करता है।

अंतरिम प्रबंध निदेशक एवं सीईओ यू बी प्रवीण राव को मुख्य परिचालन अधिकारी और पूर्णकालिक निदेशक बनाने की घोषणा की गयी है। उनका यह कार्यकाल दो जनवरी 2018 से शुरू होगा। वह 17 अगस्त 2022 तक कंपनी के पूर्णकालिक निदेशक रहेंगे।

इंफाेसिस निदेशक मंडल के अध्यक्ष नंदन निलेकणी ने कहा कि श्री पारेख के इंफोसिस से जुड़ना उत्साहजनक है। उनके पास वैश्विक स्तर पर आईटी क्षेत्र में काम करने का करीब तीन दशक का अनुभव है और कारोबार में भारी बदलाव लाने का बेहतर अनुभव है। श्री पारेख कई अधिग्रहण सौदों को भी अंजाम दे चुके हैं। उनके अनुभव को देखते हुये निदेशक मंडल ने श्री पारेख का इस पद के लिए चयन किया है।

आईआईटी बांबे से वैमानिकी इंजीनियरिंग में स्नातक एवं कॉर्नेल यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर साइंस और मैकेनिकल इंजीनियरिंग में परास्नातक श्री पारेख इंफोसिस से जुड़ने से पहले कैपजेमिनी कंपनी के ग्रुप कार्यकारी बोर्ड के सदस्य थे।

Related Posts: