महिला को बहन भी बनाया और उसके गहने भी लूट लिए

  • चार बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम

भोपाल,

परवलिया इलाके स्थित चंदूखेड़ी में बीती रात चार बदमाशों ने सशस्त्र सीमा बल के जवान के मकान पर धावा बोल नगदी सहित 15 हजार लूट लिए. वारदात के समय जवान ड्यूटी पर गया हुआ था और घर में पत्नी और एक बच्चा अकेले थे.

परवलिया थाना प्रभारी जीएस महोबिया के मुताबिक मकान नंबर 269, शांती इन्कलेव, चंदूखेड़ी निवासी दीपक पीपले अपने घर में 23 वर्षीय पत्नी संध्या और एक छोटे बच्चे के साथ रहता है. वह सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी)में सिपाही के पद पर कार्यरत है.

चंदू खेड़ी स्थित एसएसबी के ट्रनिंग सेंटर की सुरक्षा में उसकी पदस्तगी है.रोजाना की तरह रात 2 बजे वह अपने घर से ड्यूटी करने चले गये थे. घर में पत्नी और बच्चा अकेले थे. दीपक के घर से जाने के कुछ ही देर बाद चार युवक उसके मकान का दरवाजा चालाकी से खोलकर अंदर आ गए.

आहट होने पर संध्या ने जैसे ही दरवाजे की और देखा चारों युवक सामने आ खड़े हुए. संध्या के चिल्लाने पर एक युवक ने उसका मुंह दबा दिया. उसके बाद चारों युवक मकान में माल तलाशने लगे. माल नहीं मिलने पर युवकों ने संध्या से बोला की दीदी घबराओ और चिल्लाओं मत हम तुम्हे कुछ नहीं करेगें, बस तुम हमे अपने गहने और जो भी पैसा रखा है दे दो, हम लोग चुपचाप चले जाएंगे.

घर में एक छोटे बच्चे के साथ अकेली मौजूद संध्यां गले में पहना मंगलसूत्र, कान के टाप्स, पायल, बच्चे की कमर में बना करधन और घर में रखे 1700 रुपए नगद, उन चारों लुटेरों को थमा दिए. जिसके बाद वह चारों बदमाश वहां से पैदल ही भाग निकले.

होश संभालते हुए संघ्या ने मोबाइल पर अपने पति दीपक को इस वारदात की जानकारी दी. जिसके बाद पुलिस को सूचित किया गया. थाना प्रभारी महोबिया के मुताबिक संध्या ने बयानों में बताया कि चारों बदमाशों की उम्र 25 से 40 के बीच लग रही थी और वह प्रोफेश्नल लुटेरे ही लग रहे थे.

Related Posts: