पटना,

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद यादव की पत्नी और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी आखिरकार सात नोटिस के बाद रेलवे टेंडर घोटाला और आय से अधिक संपत्ति मामले में पूछताछ के लिए आज प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष उपस्थित हुईं।

श्रीमती राबड़ी देवी अपनी बेटी और राज्यसभा सदस्य मीसा भारती, दामाद शैलेश और राजद विधायक भोला यादव के साथ प्रवर्तन निदेशालय के पटना स्थित कार्यालय पहुंची जहां उनसे दिल्ली से आयी ईडी की टीम पूछताछ कर रही है। सूत्रों के अनुसार ईडी के अधिकारी करीब 55 सवालों का जवाब श्रीमती राबड़ी देवी से मांग रहे हैं। पूछताछ शाम तक चलने की सम्भावना है।

गौरतलब है कि ईडी ने श्रीमती राबड़ी देवी को पूछताछ के लिए दिल्ली स्थित कार्यालय आने के लिए सात बार नोटिस भेजा था लेकिन श्रीमती राबड़ी देवी ने दिल्ली जाने से साफ इंकार कर दिया और साफ-साफ कह दिया कि जिसे भी पूछताछ करनी है वह पटना आये।

इसके बाद ईडी ने उन्हें आठवीं बार नोटिस भेजकर आज पटना स्थित कार्यालय आने को कहा। ईडी की टीम रेलवे टेंडर घोटाला और आय से अधिक संपत्ति मामले में श्री लालू प्रसाद यादव और उनके पुत्र तेजस्वी प्रसाद यादव से पूछताछ कर चुकी है।

भारतीय रेलवे खान-पान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) के दो होटलों की नीलामी में घोटाले को लेकर केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने 07 जुलाई 2017 को श्री लालू प्रसाद यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी, पुत्र तेजस्वी प्रसाद यादव, राजद के राज्यसभा सदस्य प्रेमचंद गुप्ता और उनकी पत्नी सरला गुप्ता के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

इस सिलसिले में उनके 12 ठिकानों पर छापेमारी भी की गई थी। इसी मामले में मनी लॉन्ड्रिंग (काले धन को वैध बनाना) की जांच ईडी कर रहा है।

Related Posts: