DSC_4666भोपाल, 26 फरवरी,नभासं. अंतत: राज्य विधानसभा में गुरुवार को सत्तापक्ष की ओर से हुए भारी हंगामे के बीच वर्ष 2015-16 का बजट ग्लोटिन बिना चर्चा कराए ही पारित कर दिया गया. सदन में प्रतिपक्ष की खामोशी और सत्तापक्ष के हंगामे के बीच विधानसभा अध्यक्ष सीताशरण शर्मा ने दिन की निर्धारित कार्यसूची का काम पूरा होने के बाद जैसे ही कोरम पूरा हुआ बजट पास कराया. जिसके लिए स्पीकर ने नियमों को शिथिल कर वित्तमंत्री जयंत मलैया को बजट प्रस्ताव प्रस्तुत करने को कहा, जिसके बाद इसे पारित कर दिया गया.

24 घंटे में पास हो गया बजट
विधानसभा के इतिहास में पहली बार बजट सत्र में पेश बजट 24 घंटे के अंदर बिना चर्चा के ही पास हो गया. इसके पहले चार बार बजट बिना चर्चा के पास जरूर हुआ है, लेकिन 24 घंटे के अंदर बजट पास होने का यह पहला और अपनी किस्म का विलक्षण उदाहरण है. उधर, बजट सत्र में बिना चर्चा के 24 घंटे के अंदर बजट पास होने और एक महीने पहले सत्र की समाप्ति पर विपक्ष ने सरकार पर लोकतंत्र का गला घोटने का आरोप लगाया है.

वहीं सत्तापक्ष ने इसके लिए विपक्ष को जिम्मेदार ठहराया है.इस पर एक घंटे भी चर्चा नहीं हो सकी. खासकर बजट पर. मौजूदा बजट सत्र में सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच जारी टकराव के चलते न तो बजट पर चर्चा हो सकी, न ही गुरुवार को बिना चर्चा के पास किए गए दो संशोधन विधेयकों पर. सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच रस्साकसी नहीं रुकने के कारण स्पीकर डॉ. सीताशरण शर्मा ने बजट का कोरम पूरा कर उसे पांच मिनट के अंदर पास करवा दिया.

Related Posts: