saniaनई दिल्ली,  देश की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा मौजूदा वर्ष 2016 में पिछले प्रदर्शन को भले ही न दोहरा पा रही हों लेकिन वह सोमवार को जारी डब्ल्यूटीए रैंकिंग में अब भी विश्व की नंबर-एक महिला युगल खिलाड़ी बनी हुई हैं. हालांकि पुरुष एकल में यूकी भांबरी और युगल में लिएंडर पेस को एटीपी रैंकिंग में नुकसान उठाना पड़ा है.

गत वर्ष एक साथ 10 खिताब जीतने वालीं सानिया और उनकी जोड़ीदार स्विटजरलैंड की मार्टिना हिंगिस की करिश्माई जोड़ी फिलहाल लय में नहीं है और गत माह उन्हें मियामी ओपन के दूसरे दौर में बाहर होना पड़ा जहां वे गत चैंपियन थीं. इससे पहले इंडियन वेल्स के दूसरे राउंड में और उससे पहले दोहा में भी सानिया-हिंगिस हार कर बाहर हो गई थीं.

हालांकि उनके इस प्रदर्शन का रैंकिंग पर कोई असर नहीं हुआ है. डब्ल्यूटीए महिला युगल रैंकिंग में हिंगिस और सानिया अभी भी दुनिया की नंबर-एक जोड़ी बनी हुई हैं. दोनों खिलाड़ी नंबर-एक स्थान पर बनी हुई हैं और उनके एक बराबर 11825 रेटिंग अंक हैं. पुरुष एकल और युगल में भारतीय खिलाडिय़ों की रैंकिंग निराशाजनक है. एकल में यूकी भांबरी दो स्थान के नुकसान के साथ 113वें स्थान पर खिसक गये हैं.

हालांकि वह एकल रैंकिंग में देश के शीर्ष पुरुष खिलाड़ी हैं. इसके अलावा साकेत मिनैनी 13 स्थान गिरकर 151 वें, रामकुमार रामनाथन 14 स्थान गिरकर 247वें और सोमदेव देववर्मन पांच स्थान के नुकसान के साथ 290वें स्थान पर गिर गये हैं. युगल में रोहन बोपन्ना अपने 11वें स्थान पर बरकरार हैं और इस वर्ग में देश के शीर्ष टेनिस खिलाड़ी भी बने हुये हैं.

Related Posts: