sania_hingisसिडनी,  जीत के रथ पर सवार भारत की सानिया मिर्जा और उनकी जोड़ीदार स्विटजरलैंड की मार्टिना हिंगिस ने लगातार 30वीं जीत हासिल कर आज सिडनी इंटरनेशनल टेनिस टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया जो इस जोड़ी का एक साथ 11वां खिताब है.

शीर्ष वरीय सानिया-हिंगिस ने कैरालिन गार्सिया और क्रिस्टिना म्लादेनोविच की जोड़ी को कड़े संघर्ष में 1-6, 7-5, 10-5 से पराजित किया. टॉप सीड जोड़ी ने सेमीफाइनल मुकाबला सुपर टाईब्रेक में जाकर जीता था और फाइनल भी उन्होंने सुपर टाईब्रेक में जीता. उन्होंने एक घंटे 13 मिनट में यह मैच समाप्त किया. विश्व की नंबर-एक जोड़ी पहला सेट आसानी से 1-6 से गंवाने के बाद दूसरे सेट में 1-4 से पिछड़ गई थी.

लेकिन सानिया हिंगिस ने इसके बाद जबरदस्त वापसी करते हुये पहले 5-5 से बराबरी हासिल की और फिर 7-5 से दूसरा सेट जीत लिया.
सुपर टाईब्रेक में टॉप सीड जोड़ी ने 8-3 की बढ़त बना ली और 10-5 से सुपर टाईब्रेक जीत कर 2016 में लगातार दूसरा खिताब अपने नाम कर लिया. गत वर्ष मार्च में जोड़ी बनाने वाली सानिया और हिंगिस ने अब तक एक साथ 11 खिताब जीत लिये हैं.

सानिया हिंगिस ने सेमीफाइनल जीतकर गिगी फर्नांडिज और नताशा जवेरा के 1994 में बने लगातार 28 मैच जीतने के रिकार्ड को पीछे छोड़ते हुये अपनी 29वीं जीत दर्ज की थी.

दोनों की यह लगातार 30वीं जीत है और अब उनकी नजरें 1990 में बने लगातार 44 मैच जीतने के विश्व रिकार्ड पर टिक गई हैं. यह विश्व रिकार्ड याना नोवोत्ना और हेलना सुकोवा के नाम दर्ज है.

दोनों ने गत सप्ताह ब्रिसबेन इंटरनेशनल में अपना पहला खिताब जीता था. सानिया ने गत वर्ष हिंगिस के साथ जोड़ी बनाई थी और दोनों ने एक साथ नौ खिताब जीते थे जिसमें विंबलडन और यूएस ओपन दो ग्रैंड स्लेम भी शामिल हैं. यह उनका लगातार सातवां और एक साथ ओवरऑल 11वां खिताब है.

सिडनी की जीत से सानिया-हिंगिस ने मेलबोर्न में 18 जनवरी से शुरू होने वाले वर्ष के पहले ग्रैंड स्लेम आस्ट्रेलियन ओपन के लिये अपना दावा मजबूत कर लिया है.

Related Posts: