sania_hingisसिडनी,  जीत के रथ पर सवार भारत की सानिया मिर्जा और उनकी जोड़ीदार स्विटजरलैंड की मार्टिना हिंगिस ने लगातार 29वीं जीत दर्ज कर 22 साल पुराना रिकार्ड तोड़ते हुये आज सिडनी इंटरनेशनल टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश कर लिया.

शीर्ष वरीय सानिया-हिंगिस ने रोमानिया की रालूका ओलारू और कजाखिस्तान की यारोस्लावा श्वेेडोवा की जोड़ी को तीन सेटों के कड़े संघर्ष में 4-6, 6-3, 10-8 से पराजित कर गिगी फर्नांडिज और नताशा जवेरा के 1994 में बने रिकार्ड को तोड़ कर लगातार अपनी 29वीं जीत दर्ज की. सानिया और हिंगिस की नजरें इसी के साथ अब 1990 में बने लगातार 44 मैच जीतने के विश्व रिकार्ड पर टिक गई हैं. यह विश्व रिकार्ड याना नोवोत्ना और हेलना सुकोवा के नाम दर्ज है.

विश्व की नंबर-एक महिला युगल खिलाड़ी सानिया और नंबर-दो हिंगिस वर्ष के अपने लगातार दूसरे खिताब से अब एक कदम दूर हैं. दोनों ने गत सप्ताह ब्रिसबेन इंटरनेशनल में अपना पहला खिताब जीता था. सानिया ने गत वर्ष हिंगिस के साथ जोड़ी बनाई थी और दोनों ने एक साथ नौ खिताब जीते थे जिसमें विम्बलडन और यूएस ओपन दो ग्रैंड स्लेम भी शामिल हैं. साल की शुरूआत में दोनों ब्रिसबेन में खिताब जीत चुकी हैं और यदि यह भारतीय-स्विस जोड़ी सिडनी में भी खिताब जीत जाती हैं तो यह उनका लगातार सातवां और एक साथ ओवरऑल 11वां खिताब होगा.

हालांकि सिडनी फाइनल में पहुंचने के लिये सानिया-हिंगिस को मैच में काफी पसीना बहाना पड़ा और वे पहला सेट 4-6 से गंवा बैठी जबकि दूसरे सेट में भी उनकी शुरूआत खराब रही और वह 1-2 से पिछड़ गईं. लेकिन फिर अनुभवी जोड़ी ने जबरदस्त वापसी करते हुये दूसरा सेट 6-3 से जीता और स्कोर 1-1 की बराबरी पर कर मैच को सुपरटाई ब्रेक में ले गईं और 10-8 से जीत दर्ज की.
मेलबोर्न में 18 जनवरी से शुरू होने वाले वर्ष के पहले ग्रैंड स्लेम आस्ट्रेलियन ओपन के लिये अपना दावा मजबूत कर चुकीं स्विस खिलाड़ी ने कहा कि मेरे लिये ऐसा कड़ा मैच खेलना अच्छा अनुभव है क्योंकि हम ग्रैंड स्लेम में खेलने जा रहे हैं.

Related Posts: