DSCF1093भोपाल, 17 अगस्त. शहर में आज तीसरे सावन सोमवार पर आज दिनभर रुक-रुक कर पानी बरसा. शाम के तेज बारिश के कारण शहर के कई इलाकों की सड़कों पर पानी भर गया. साथ ही इस दौरान शहर के कई स्थानों के मार्गो पर पानी के कारण लम्बे-लम्बे जाम लग गये. जिससे घंटों लोग जाम में फंसे रहे. बाद में किसी यातायात पुलिस को जाम समाप्त करने में भारी मशक्कत करना पड़ी.

सोमवार की शाम को हुई बारिश के से शहर के निचले इलाकों में पानी भर गया. जिससे पुराने शहर के भोपाल टॉकीज, रायल मार्केट,सिंधी कॉलोनी, करोंद, भानपुरा, कैंची छोला, द्वारिकानगर, नवजीवन कॉलोनी, पश्चिम मध्य रेलवे कॉलोनी, विजय नगर, चांबदल, सेमरा कलां, कैलाश नगर, पुरूषोत्तम नगर, कैलाश नगर, सुभाष कॉलोनी, अशोका गार्डन, महामाई का बाग, चाणक्यपुरी, रोशनबाग, बागफरहतअफजा कॉलोनी, गोवंदिपुरा औद्योगिक क्षेत्र की निचली झुग्गि बस्तियां, इंद्रपुरी, निजामउद्दीन कॉलोनी, आनंद नगर, भेल क्षेत्र के निचले क्षेत्र शामिल है. इसी तरह नए शहर के शाहपुरा, लेक के मुख्य मार्ग, मनीषा मार्केट, शाहपुरा, बावडिय़ा कला, कोलार की सर्वधर्म कालोनी, चूना भटट्ी, साईनॉथ कॉलोनी, हर्षवर्धन नगर, पंचशीन नगर,बाणगंगा क्षेत्र की निचली बस्तियों सहित अनेक इलाके शामिल है.

मौसम का मिजाज एक बार फिर बदल गया है. राजधानी में शाम को लोकल क्लाउड की वजह से करीब एक घंटे तक जोरदार बारिश हुई. सोमवार सुबह ही मौसम विभाग ने मौसम खुलने की संभावना जताई थी, लेकिन धूप और उमस के कारण नमी बादल में बदल गई और बादल बरस पड़े. मौसम केंद्र का अनुमान है कि उत्तर-पूर्वी मप्र में भारी बारिश हो सकती है. आज सुबह भी अरेरा कॉलोनी, होशंगाबाद रोड सहित कुछ जगह छिटपुट बारिश हुई थी.

कहां-कितनी बारिश– रविवार को प्रदेश के कई इलाकों में झमाझम बारिश हुई है. भोपाल में पिछले चौबीस घंटों में 1 मिमी, इंदौर में 5.6 मिमी, जबलपुर में 26.4 मिमी, ग्वालियर में 28.8 मिमी और पचमढ़ी में 8 मिमी बारिश दर्ज की गई है.

सामान्य बारिश का कोटा पूरा– भोपाल में सामन्य बारिश कोटा लगभग पूरा हो गया है. एयरपोर्ट ऑब्जरवेटरी के मुताबिक रविवार तक सीजन की 88.29 सेमी बारिश हो चुकी है. शहर की सामान्य औसत बारिश 109 सेमी है, लेकिन इससे 19 फीसदी कम या ज्यादा बारिश को सामान्य माना जाता है. यानी भोपाल में सामान्य बारिश का कोटा पूरा हो चुका है. राजधानी और इसके आसपास के सभी डेम लबालब होने जा रहे हैं.