कोलून,

ओलंपिक पदक विजेता और देश की स्टार महिला शटलर पीवी सिंधू आज विश्व की नंबर-एक खिलाड़ी चीनी ताइपेई की ताई जु यिंग के हाथों सीधे गेमों में 18-21, 18-21 से हारकर चार लाख डॉलर की इनामी राशि वाले हांगकांग ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट का खिताब जीतने से चूक गईं.

ताई जु यिंग ने फाइनल में सिंधू को 45 मिनट में पराजित किया. इस जीत के साथ ही चीनी ताइपे खिलाड़ी ने रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता खिलाड़ी सिंधू के खिलाफ अब अपना करियर रिकॉर्ड 8-3 कर लिया है. ताई जु यिंग ने इस वर्ष मार्च में भी सिंधू को शिकस्त दिया था.

विश्व की नंबर-एक खिलाड़ी ताई जु यिंग का इस वर्ष यह पांचवां सुपर सीरीज खिताब है. उन्होंने इससे पहले आल इंग्लैंड, मलेशिया ओपन, सिंगापुर और फ्रांस ओपन में खिताब अपने नाम की थी. ताई जु यिंग ने पहला गेम 21-18 से बड़ी आसानी से जीत लिया. लेकिन दूसरे गेम में सिंधू ने एक समय 10-8 की बढ़त ले ली थी.

हालांकि चीनी पाइपेई खिलाड़ी ने फिर शानदार वापसी की और स्कोर 11-11 से बराबरी पा ला दिया. विजेता खिलाड़ी ने इसके बाद 13-12 की बढ़त हासिल की और फिर 21-18 से मैच जीत लिया.

फाइनल में सिंधू के पास ताई जु यिंग से पिछले बार की फाइनल में मिली हार का बदला लेने का मौका था लेकिन वह यहां एक बार फिर से चूक गई. ताई जु यिंग ने पिछले साल इसी टूर्नामेंट में सिंधू को 21-15, 21-17 से हराकर खिताब जीता था.

सिंधू अगर यहां खिताब जितती तो वह प्रकाश पादुकोण (1982) और सायना नेहवाल (2010) के बाद हांगकांग ओपन टूर्नामेंट जीतने वाली तीसरी भारतीय खिलाड़ी बन जाती.

Related Posts: