sindhuरियो डि जेनेरो,  भारत की पीवी सिंधू ने करिश्माई प्रदर्शन करते हुये जापान की नोजोमी ओकूहारा को लगातार गेमों में गुरुवार को 21-19, 21-10 से हराकर रियो ओलंपिक की महिला बैडमिंटन प्रतियोगिता के फाइनल में स्थान बना लिया और इसके साथ ही उन्होंने एक नया इतिहास रच दिया।

सिंधू की इस कामयाबी से भारत का रियो ओलंपिक में दूसरा पदक पक्का हो गया। अपना पहला ओलंपिक खेल रही सिंधू ओलंपिक बैडमिंटन के फाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन गयी हैं। सिंधू का अब स्वर्ण पदक के लिये नंबर एक और विश्व चैंपियन स्पेन की कैराेलिना मारिन के साथ मुकाबला हाेगा जिन्होंने एक अन्य सेमीफाइनल में गत चैंपियन चीन की ली जुईरुई को 21-14, 21-16 से हराया।