shivrajभोपाल,  मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गुरूवार शाम उज्जैन में चल रहे सिंहस्थ में मची तबाही के बाद व्यवस्थाओं का एक बार फिर आकस्मिक जायजा लेने शुक्रवार और शनिवार की दरमियानी रात क्षिप्रा नदी के किनारे रामघाट पहुंचे।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री श्री चौहान ने शुक्रवार की आधी रात होमगार्ड की नाव से आकस्मिक रूप से रामघाट का भ्रमण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। अपने बीच मुख्यमंत्री को पाकर श्रद्धालु भी हतप्रभ रह गए।

मुख्यमंत्री ने भी पर्व स्नान में आये देश के विभिन्न क्षेत्रों के लोगों का अभिवादन किया। उन्होंने भ्रमण के दौरान घाटों की साफ-सफाई, सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। उनके आकस्मिक भ्रमण के दौरान प्रभारी मंत्री भूपेन्द्र सिंह, उदासीन अखाड़े के महंत रघुमुनि महाराज, विधायक डॉ. मोहन यादव, सतीश मालवीय तथा अनिल फिरोजिया भी साथ थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रामघाट स्थित श्री पंचायती बड़ा उदासीन अखाड़े में जाकर श्री महंत ब्रह्म श्री महाराज पूर्व अध्यक्ष पंचायती अखाड़ा से आशीर्वाद प्राप्त किया। उन्होंने संतों के साथ भोजन प्रसादी भी ग्रहण की।