bpl1भोपाल,  सिंहस्थ से जुड़़े जिन कार्य में अंतिम रूप से प्रस्ताव में स्वीकृति की जरूरत हो, उन्हें शीघ्र भेजें. इन पर स्वीकृति तुरंत दी जाएगी. यह निर्देश अपर मुख्य सचिव गृह बीपी सिंह ने उज्जैन में सिंहस्थ की तैयारियों की समीक्षा में दिए.

समीक्षा बैठक में बताया गया कि सिंहस्थ के लिये क्षिप्रा नदी पर 10 पेन्टून ब्रिज बनाए जाएंगे. यह ब्रिज एक तट से दूसरे तट तक आवागमन में इस्तेमाल किए जाएंगे. आर्मी की टीम ब्रिज बनाने के लिये सामग्री के साथ 15 मार्च तक उज्जैन आएगी. आर्मी 4 पेन्टून ब्रिज बनाएगी. शेष 6 ब्रिज पड़ोसी राज्य उत्तरप्रदेश से आएंगे. सिंहस्थ के दौरान सुरक्षा व्यवस्था के लिये पहले चरण में 35 हजार पुलिसकर्मी प्रशिक्षित किये जा चुके हैं.

पुलिस के अधिकांश अधोसंरचना के कार्य लगभग पूरे हो चुके हैं. सिंहस्थ के लिये बाहर से फोर्स बुलाने की सभी जरूरी कार्यवाही पूरी कर ली गई है. समीक्षा में बताया गया कि सिंहस्थ के दौरान आपात स्थिति में वाहन संचालन के लिये करीब 70 किलोमीटर लम्बाई का ग्रीन कॉरिडोर बनाया जाएगा. सभी निर्माण विभागों को निर्देश दिये गये कि जिन कार्यों के लिये खुदाई की गई थी, उनका मलबा तत्काल हटाया जाए.

कमिश्नर उज्जैन डॉ. रविन्द्र पस्तौर ने बताया कि 22 अप्रैल से 21 मई तक क्षिप्रा के जल की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिये घाटों पर डिस्पले बोर्ड लगाए जाएंगे. मेला क्षेत्र में कॉलेज के छात्रों के जरिये विभिन्न सेवाओं के स्तर के बारे में श्रद्धालुओं से जानकारी ली जाएगी.

 

Related Posts: