यूरोलाजी शिविर में पहले दिन हुए 41 रोगियों के ऑपरेशन

संत हिरदाराम नगर,

संत हिरदाराम नगर स्थित सेवा सदन नेत्र चिकित्सालय में आयोजित 89वें नि:शुल्क यूरोलाजी शिविर में पहले दिन 41 रोगियों के आपरेशन किये गये. शिविर का आयोजन दुबई के दानदाता समारा और रितेश पंजाबी तथा जीव सेवा संस्थान के सहयोग से किया गया है.

ज्ञातव्य है कि शिविर में कुल 445 रोगियों ने अपना पंजीयन करवाया था, जिनमें से करीब 125 रोगी आपरेशन के लिये चिन्हित किये गये हैं. सभी रोगियों के आपरेशन 31 जनवरी 2018 तक पूर्ण करने के प्रयास किये जा रहे हैं.

अमेरिका के यूरोलाजी विशेषज्ञ डॉ. राजू थामस, पीडियाट्रिक यूरोलाजी विशेषज्ञ अपोलो चेन्नई के डॉ. जि मी शाद, अपोलो अहमदाबाद के डॉ. दर्शन शाह, दिल्ली के डॉ. प्रशांत जैन, भोपाल के डॉ. सी.पी. देवानी और डॉ. सुधीर लोकवानी ने मूत्र व्याधियों से पीडि़त 41 रोगियों के आपरेशन किये.

शिविर में रेडियोलॉजी विशेषज्ञ डॉ. दीपक झांग्यिानी, निश्चेतना विशेषज्ञ डॉ. दीपक जैन और डॉ. शैलेन्द्र सिंह तथा अपोलो अहमदाबाद के फिजिशियन डॉ. नरेश हिमथानी और मुंबई से डॉ. अभिषेक ज्ञानचंदानी और उनके चार सहयोगी डॉक्टरों द्वारा रोगियों की पोस्ट आपरेटिव देखभाल की जिम्मेदारी संभाली.

मरीजों की पीड़ा कम करने का आग्रह

इस अवसर पर सिद्ध भाऊ ने रोगियों से भेंट कर कुशलक्षेम पूछा और उनका हौसला बढ़ाया. सिद्ध भाऊजी ने वार्ड में तैनात ड्यूटी डॉक्टर्स और पैरामेडीकल स्टाफ को आपरेशनशुदा रोगियों के स्वास्थ्य की सतत देखभाल करने और उनकी पीड़ा को कम करने के लिये समुचित उपाय सुनिश्चित करने की अपेक्षा की.

सिद्ध भाऊ ने रोगियों द्वारा रेखाचित्रों में भरे गये रंगों को देखा और उनकी सराहना की. सिद्ध भाऊ ने पीडियाट्रिक युरोलाजी विशेषज्ञ डॉ. जि मी शाद से चर्चा की और उनसे आग्रह किया वे शिविर में अधिक समय दें ताकि ज्यादा से ज्यादा मूत्रव्याधियों से पीडि़त बच्चों के आपरेशन संभव हो सकें.

उन्होंने डॉ. जि मी शाद से कहा कि पूर्व के शिविरों में उनके द्वारा बच्चों के सफल आपरेशन की ख्याति आसपास के क्षेत्रों में फैल गयी है, इसलिये अब शिविरों में बाल रोगियों की संख्या बढ़ गयी है. इस अवसर पर अस्पताल प्रशासक भरत चावला और अन्य सेवादार भाऊजी के साथ थे.

Related Posts: