modiचंढीगड,   अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर आज चंढीगड़ में आयोजित मुख्य समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बड़ी तन्मयता से लोगों के साथ मिल कर विभिन्न योगासन किये। सफेद रंग का कुर्ता पायजाम पहने और गले में सफेद मफलर लपेटे प्रधानमंत्री किसी योगी से कम नहीं दिख रहे थे।

योगसत्र में हिस्सा लेने के पहले उन्होंने आयोजन स्थल पर माैजूद 150 दिव्यांगों से मुलाकात की और उनसे बाते की उसके बाद वह वहां योग करने आये लोगों की भीड़ के बीच में चले गये कुछ देर तक पूरे आयोजन स्थल में घूूम कर सारी व्यवस्था देखी और उसके बाद लोगों के बीच ही अपना आसन जमा लिया। यह सुरक्षाकर्मियों के लिए थाेडी परेशानी का सबब बन गया लेकिन प्रधानमंत्री इन सब से निश्चिंत होकर योगासन करते रहे।

योग की प्रत्येक क्रिआअों को बड़े ही सधे तरीके से उन्होंने किया जिसे देख कर ऐसा लग रहा था जैसे वह योग के पुराने प्रशिक्षक हो। प्रधानमंत्री जनता के बीच में योग कर रहे थे तो उनके मंत्रिमंडल के सहयोगी, पंजाब और हरियाणा के राज्यपाल और केंद्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ के प्रशासक कप्तान सिंह सोलंकी, पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और सरकारी अधिकारी अगली पंक्ति में योग कर रहे थे।

इससे पहले प्रधानमंत्री के यहां पहुंचते ही उत्साहित जनसैलाब ने जोरदार तालियों ने उनका स्वागत किया जिसका अभिवादन प्रधानमंत्री ने हाथ हिलाकर किया। योग सत्र समाप्त होते ही लोगों ने प्रधानमंत्री को चारों ओर से घेर लिया और उनके साथ सेल्फी लेने की होड मच गई। सुरक्षाकर्मियों ने बड़ी मुश्किल से प्रधानमंत्री को भीड़ से बाहर निकाला।

वापस जाते हुए प्रधानमंत्री ने योग दिवस को सफल बनाने के लिए प्रशासन, पुलिस और जनता को धन्यवाद देते हुए कहा कि उन्हें उम्मीद है कि अगले साल भी इसका सफल आयोजन होगा। योग दिवस से पहले बारिश होने के कारण आयोजन स्थत पर काफी कीचड हो गया था जिससे लोगों को थोडी परेशानी हुई लेेकिन इसके बावजूद उनके उत्साह और जोश में कोई भी कमी नहीं थी।

योग करने के लिये यहां बच्चे जवान और बुजुर्ग लोग यहां मौजूद थे जिसके कारण कैपिटल कॉम्पलेक्स खचाखच भरा हुआ था। योग सत्र समाप्त होते ही तेज बारिश शुरु हो गयी जिससे परिसर जल्दी ही खाली हो गया।

Related Posts: