5 जवान शहीद, 2 आतंकवादी ढेर, पठानकोट एयरबेस की तर्ज पर हमला

  • ऑपरेशन ऑल आउट से बौखलाए आतंकवादी
  • एक जवान एलओसी पर फायरिंग में शहीद

श्रीनगर,

ऑपरेशन ऑल आउट से बौखलाए आतंकवादियों ने साल के आखिरी दिन जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में पठानकोट एयरबेस की तर्ज पर बड़ा हमला किया है.

सीआरपीएफ के ट्रेनिंग सेंटर में रविवार रात 2 बजे घुसे जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने जबरदस्त फायरिंग शुरू कर दी. जवानों ने तुरंत मोर्चा संभाला और मुठभेड़ शुरू हो गई. इस दौरान सीआरपीएफ के 5 जवान शहीद हो गए और 2 अन्य घायल हुए हैं. सुरक्षाबलों ने 2 आतंकवादियों को मार गिराया है. अभी सर्च ऑपरेशन जारी है.

आतंकी हमले पर जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद ने मीडिया को बताया कि आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन जारी है और उनपर जल्द काबू पा लिया जाएगा. सीआरपीएफ के हवाले से बताया कि फिदायीन लेथपोरा स्थित सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स के 185 बटालियन कैंप में लगभग 2 बजे घुसने में कामयाब रहे.

आतंकियों ने पहले हैंड ग्रेनेड फेंके और उसके बाद फायरिंग शुरू कर दी. आतंकी एक इमारत में जाकर छिप गए और वहां से गोलीबारी करने लगे. सीआरपीएफ ने कहा है कि दूसरे कैंपों पर भी ऐसे ही हमले की आशंका है.

लेथपोरा हमले में सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं. घायलों को अस्पताल ले जाया गया है. जैश-ए-मोहम्मद ने 2016 में पठानकोट एयरबेस पर नए साल के जश्न के बीच ही हमला किया था. तब 1 जनवरी की रात हुए इस हमले में 7 सैनिक शहीद हो गए थे. उस समय मुठभेड़ 80 घंटे तक चली थी.

अफगान में विस्फोट 15 की मौत

अफगानिस्तान में एक ही सप्ताह में दूसरी बार आतंकी हमला होने की खबर सामने आ रही है. नांगरहार प्रॉविंस की राजधानी जलालाबाद में पूर्व गवर्नर के अंतिम संस्कार के दौरान हुए विस्फोट में 15 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 14 घायल बताए जा रहे हैं.

बता दें कि हाल में हस्का मिना प्रांत के एक पूर्व गवर्नर का निधन हो गया था और उनके अंतिम संस्कार के दौरान यह हमला हुआ. नांगरहार प्रॉविंस के गवर्नर के प्रवक्ता अत्ताउल्लाह खोगयानी ने इस बात की पुष्टि की है.

उन्होंने कहा, पूर्व गवर्नर के अंत्येष्टि समारोह में विस्फोट किया गया था. गवर्नर के कार्यालय ने इससे पहले एकबयान में मरने वालों की संख्या छह और घायलों की संख्या 11 बताई थी. खबरों के अनुसार, अब तककिसी भी आंतकी संगठन ने इसकी जिम्मेदारी नहीं ली है. बता दें कि इसी सप्ताह काबूल में हुए एक आत्मघाती विस्फोट में 41 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 80 से अधिक घायल हो गए थे.

Related Posts: