KHATTARजींद, हरियाणा में एक साल पूरी कर चुकी खट्टर सरकार से प्रदेश की जनता कितनी जुड़ी है इसका अंदाजा मुख्यमंत्री और सरकारी रैलियों से ही लगाया जा सकता है. मंगलवार को जींद के अलेवा कस्बे में केन्द्रीय मंत्री बीरेन्द्र सिंह की ओर से आयोजित की गई जनसभा में सीएम को सुनने वालों का जबर्दस्त टोटा रहा.

अलेवा के राजीव गांधी स्टेडियम में हुई इस जनसभा में अधिकतर कुर्सियां खाली रहीं. आलम यह रहा कि जनसभा में भीड़ इक्कठा न होते देख आयोजकों ने स्टेज के सामने स्कूली बच्चों को बैठाकर अपनी इज्जत बचाई. वहीं, भीड़ न इक्कठी होने पर बीरेन्द्र सिंह को मीडिया कर्मियों को कहना पड़ा कि वे बार-बार खाली कुर्सियों की तरफ पीछे ना देखे बल्कि उनकी काम करने की नीयत देखें.

अलेवा केन्द्रीय मंत्री बीरेन्द्र सिंह के हल्के उचाना का हिस्सा है और फिलहाल बीरेन्द्र सिंह की पत्नी प्रेमलता यहां से विधायक हैं. बीरेन्द्र सिंह और प्रेमलता ने ही अलेवा में कई विकास परियोजनाओं के शिलान्यास के लिए यह जनसभा रखी थी. सीएम मनोहर लाल खट्टर के आगमन को लेकर अलेवा के राजीव गांधी स्टेडियम में रखी गई इस जनसभा को लेकर बीरेन्द्र सिंह और प्रेमलता खुद तैयारियों में जुटे थे.

जनसभा में लोगों के बैठने के लिए 5 हजार कुर्सियां लगवाई गई थीं. वीआईपी लोगों व महिलाओं के बैठने की व्यवस्था अलग से की गई थी.

Related Posts: