cbiनयी दिल्ली,   केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने आय के ज्ञात स्रोतों से अधिक सम्पत्ति अर्जित करने के मामले में सूरत स्थित विशेष आर्थिक क्षेत्र (एसईजेड) के तत्कालीन विकास आयुक्त विजयकुमार नारायण शेवाले के खिलाफ आज मामला दर्ज किया। सीबीआई सूत्रों ने आज यहां बताया कि जांच एजेंसी ने मुंबई, मेंगलुरु, मालेगांव एवं नासिक सहित सात ठिकानों पर छापे भी मारे हैं, जिससे प्राप्त दस्तावेजों एवं नकद राशि से पता चलता है कि उक्त अधिकारी ने खुद के, अपनी पत्नी तथा बेटी एवं बेटे के नाम पर पांच करोड़ 26 लाख रुपये की सम्पत्ति अर्जित कर रखी है।

आरोपी अधिकारी फिलहाल मेंगलुरु स्थित एसईजेड में विकास आयुक्त के पद कार्यरत है। सीबीआई सूत्रों के अनुसार, छापे के दौरान उक्त अधिकारी के घर से 99 लाख 60 हजार रुपये नकद एवं कई सम्पत्तियों से जुड़े आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद किये गये हैं। इतना ही नहीं मुंबई के अंधेरी स्थित एक निजी फर्म के कार्यालय से 94 लाख 99 हजार रुपये भी बरामद किये गए हैं। अधिकारी की पत्नी के नाम से लिये गए बैंक लॉकर में 300 ग्राम स्वर्णाभूषण एवं 900 ग्राम चांदी के सिक्के भी बरामद  गये हैं। सीबीआई ने भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 109 तथा भ्रष्टाचार निरोधक कानून 1988 की धारा 13(बी) तथा 13(एक)(ई) के तहत उक्त अधिकारी एवं उसकी पत्नी के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

Related Posts: