awardभोपाल,  मध्यप्रदेश के सीहोर जिले के कलेक्टर डॉ. सुदाम खाड़े के नवाचार टिप्पी-टेप को स्कॉच स्मार्ट टेक्नोलॉजी अवार्ड-2015 से पुरस्कृत किया गया।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार यह अवार्ड गत दिवस नयी दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान प्रदान किया गया। अवार्ड के लिए देश भर से 350 संगठनों ने 1059 नवाचारों का पंजीयन करवाया था।

कलेक्टर सीहोर डॉ. खाड़े ने आँगनवाड़ियों के बच्चों में स्वच्छता जैसे गंभीर विषय पर गहन चिन्तन किया। यह कि बच्चों के लिए हाथ धुलाई जैसे अनिवार्य और महत्वपूर्ण कार्य को रोचक तथा प्रेरक कैसे बनाया जाए। इस पर हुये विमर्श से टिप्पी-टेप यंत्र की परिकल्पना सामने आयी। वर्तमान में जिले की लगभग 800 आँगनवाड़ियों में टिप्पी-टेप हाथ धुलाई यंत्र स्थापित किये जा चुके है जो सफलतापूर्वक कार्य कर रहे है।

टिप्पी-टेप यंत्र स्थानीय संसाधनों लकड़ी, रस्सी, प्लास्टिक केन का उपयोग कर बिना किसी खर्च के स्थापित किया जाता है। इस यंत्र के प्रयोग से जल संरक्षण, हाइजीन, कीचड़ से मुक्ति जैसे उद्ददेश्य हासिल हो रहे है। टिप्पी-टेप यंत्र के माध्यम से स्वच्छ भारत अभियान को जिले में गति मिल रही है। नौनिहालों के लिए अब हाथ धुलाई रोचक और प्रेरणास्पद कार्य हो गया है।

राज्य सरकार ने कलेक्टर के नवाचार की जीरो लागत तथा दीर्घकालीन प्रभावों को देखते हुए महिला बाल विकास विभाग तथा एमडीएनआरएचएम को प्रदेश की सभी आँगनवाड़ियों तथा आरोग्य केन्द्रों पर टिप्पी-टेप की स्थापना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं।