नयी दिल्ली,

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज जापान में अपने समकक्ष तारो कोनो के साथ नौवीं भारत-जापान रणनीतिक वार्ता में भाग लेने के लिए अपनी तीन दिवसीय यात्रा पर आज यहां से रवाना हुईं।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, “टोक्यो में भारत-जापान के विदेश मंत्रियों की नौवीं रणनीतिक वार्ता के लिए श्रीमती स्वराज अपनी तीन दिवसीय यात्रा के लिए जापान रवाना हो गयीं। उनकी यात्रा का उद्देश्य जापान के साथ हमारी विशेष रणनीतिक और वैश्विक भागीदारी मजबूत करना हैं।”

श्रीमती स्वराज जापान में अपने समकक्ष के निमंत्रण पर जापान के दौरे पर गयीं हैं। इस दौरान विदेश मंत्री अपने जापानी समकक्ष के साथ नौवीं भारत-जापान रणनीतिक वार्ता की सह-अध्यक्षता करेंगी और दोनों देश द्विपक्षीय संबंधों के सभी पहलूओं की समीक्षा करेंगे और सांझा हितों क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर विचार-विमर्श करेंगे।

विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को यहां अपने बयान में कहा “हाल के वर्षों में विविध क्षेत्रों में द्विपक्षीय संबंधों में मजबूती आयी है। सितंबर 2017 में जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अाबे की भारत यात्रा से इन संबंधों को नया प्रोत्साहन मिला है।”

बयान में कहा गया कि वर्तमान में जापान भारत में बुनियादी ढांचा परियोजनाओं, निर्माण, वित्तीय बाजारों और क्षमता-निर्माण के साथ-साथ अन्य क्षेत्रों में भी सबसे बड़े निवेशकों में से है।

इससे पूर्व वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जापान यात्रा के दौरान भारत-जापान ने विशेष रणनीतिक और वैश्विक भागीदारी पर बातचीत हुई थी।