Sensexमुंबई,  बाजार में आज बिकवाली की सुनामी आ गई और चौथे दिन भी गिरावट देखने को मिली है। खराब ग्लोबल संकेतों और कंपनियों के खराब नतीजों ने बाजार का हाल बेहाल कर दिया। सेंसेक्स और निफ्टी में 3.5 फीसदी तक की कमजोरी आई है। 24 अगस्त 2015 के बाद आज निफ्टी, बैंक निफ्टी और सेंसेक्स में एक दिन की सबसे ज्यादा गिरावट दर्ज की गई है।

कमजोरी के इस माहौल में निफ्टी ने आज 6959.95 तक गोता लगाया, तो सेंसेक्स 22909 तक टूटा। 12 मई 2014 के बाद निफ्टी ने 7000 का अहम स्तर तोड़ा है। वहीं 2016 में निफ्टी अबतक 1000 अंकों तक टूट चुका है। बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों ने आज 3 लाख करोड़ रुपये का मार्केट कैप गंवाया।

मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी जबरदस्त बिकवाली देखने को मिली है। निफ्टी का मिडकैप 100 इंडेक्स 3.7 फीसदी गिरकर 11593 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 4.6 फीसदी की गिरावट के साथ 9801 के स्तर पर बंद हुआ है। बीएसई और निफ्टी के सभी सेक्टर इंडेक्स आज लाल निशान में बंद हुए हैं। मेटल, ऑयल एंड गैस, पावर, एफएमसीजी, एनर्जी, बैंकिंग, आईटी, इंफ्रा, फार्मा और ऑटो सभी में चौतरफा बिकवाली आई है। बीएसई के मेटल इंडेक्स में 3.8 फीसदी, ऑयल एंड गैस इंडेक्स में 3.8 फीसदी और पावर इंडेक्स में 4.8 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है।

निफ्टी के एफएमसीजी इंडेक्स में 3 फीसदी, एनर्जी इंडेक्स में 4 फीसदी, आईटी इंडेक्स में 2.7 फीसदी, इंफ्रा इंडेक्स में 3.75 फीसदी, फार्मा इंडेक्स में 2.25 फीसदी और ऑटो इंडेक्स में 3.5 फीसदी की कमजोरी आई है। बैंक निफ्टी 3.8 फीसदी गिरकर 14028.5 के स्तर पर बंद हुआ है। निफ्टी के पीएसयू बैंक इंडेक्स में 3 फीसदी से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई है।

सेंसेक्स 807 अंक यानि 3.4 फीसदी गिरकर 22952 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं एनएसई क निफ्टी 239.4 अंक यानि 3.3 फीसदी गिरकर 6976.5 के स्तर पर बंद हुआ है। आज सेंसेक्स के 30 में से 29 शेयर लाल निशान में बंद हुए हैं, जबकि निफ्टी के 50 में से 48 शेयर लाल निशान में बंद हुए हैं। अदानी पोर्ट्स, वेदांता, बीएचईएल, कोटक महिंद्रा बैंक, टाटा मोटर्स, ओएनजीसी और हिंडाल्को जैसे दिग्गज शेयर 7.9-5 फीसदी तक गिरकर बंद हुए हैं। हालांकि दिग्गज शेयरों में आइडिया सेल्युलर 1 फीसदी और सिप्ला में सुधार रहा.

Related Posts: