sensexमुंबई,  बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स सोमवार को लगातार दूसरे कारोबारी सत्र में 86 अंक की बढ़त के साथ छह सप्ताह के उच्च स्तर 24,804.28 अंक पर बंद हुआ. थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति में गिरावट के बीच निवेशकों ने औद्योगिक वृद्धि के कमजोर आंकड़ें को तरजीह नहीं दी.

एशियाई और यूरोपीय बाजारों में तीसरे दिन तेजी रही. बैंक ऑफ जापान और अमेरिकी फेडरल रिजर्व की नीतिगत समीक्षा से पहले यह तेजी दर्ज की गई है. इसके अलावा जनवरी में औद्योगिक उत्पादन के कमजोर आंकड़ों से भी धारणा प्रभावित नहीं हुई. यह लगातार तीसरा महीना है जब औद्योगिक वृद्धि में गिरावट दर्ज की गई. इस बीच, थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति लगातार 16वें महीने शून्य से नीचे बनी हुई है. फरवरी में यह शून्य से 0.91 प्रतिशत नीचे रही.

इसको देखते हुए उद्योग जगत ने औद्योगिक उत्पादन को गति देने के लिए रिजर्व बैंक से नीतिगत दर में कटौती की मांग की है. उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति का आंकड़ा सोमवार शाम को जारी होगा. तीस शेयर वाला सेंसेक्स 86.29 अंक या 0.35 प्रतिशत की बढ़त के साथ 24,804.28 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह 24,960.51 और 24,734.04 अंक के दायरे में रहा. एक फरवरी के बाद सेंसेक्स का यह उच्च स्तर है. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 28.55 अंक या 0.38 प्रतिशत की तेजी के साथ 7,538.75 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह 7,583.70 से 7,515.05 अंक के दायरे में रहा. सेंसेक्स में शामिल 30 शेयरों में से 19 फायदे में रहे. सेंसेक्स में शामिल शेयरों में सबसे ज्यादा फायदे में आईसीआईसीआई बैंक रहा जिसका शेयर 3.70 प्रतिशत मजबूत होकर 221.70 रुपये पर बंद हुआ. इसके अलावा टाटा मोटर्स में 3.36 प्रतिशत की तेजी आई.

लाभ में रहने वाले अन्य शेयरों में भेल, ओएनजीसी, गेल, भारती एयरटेल, एक्सिस बैंक, अदाणी पोर्ट्स, एसबीआई, आईटीसी, एचयूएल, एनटीपीसी, ल्यूपिन, डा. रेड्डीज, सिप्ला, मारुति सुजुकी, टाटा स्टील और आरआईएल शामिल हैं. दूसरी तरफ कोल इंडिया महिंद्रा एंड महिंद्रा, टीसीएस, सन फार्मा, बजाज आटो, एचडीएफसी, एशियन पेंट्स, एल एंड टी, इंफोसिस, एचडीएफसी बैंक और विप्रो नुकसान में रहे.