sensexमुंबई,  विदेशी बाजारों से मिले नकारात्मक संकेत से आज बीएसई का सेंसेक्स 169.65 अंक टूटकर 25436.97 अंक पर तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 43.90 अंक लुढ़ककर 7805.90 अंक पर आ गया। यह दोनों का लगभग तीन सप्ताह का निचला स्तर है। वैश्विक स्तर पर डॉलर में जारी गिरावट के कारण सभी प्रमुख एशियाई और यूरोपीय बाजार लाल निशान में रहे।

जापान का निक्की 3.11 प्रतिशत टूटकर तीन सप्ताह के निचले स्तर पर उतर गया। अमेरिकी डॉलर लगातार छठे कारोबारी दिवस पर गिरता हुआ आठ महीने के निचले स्तर पर आ गया है। वैश्विक बाजारों के दबाव में घरेलू बाजार में भी बिकवाली रही। साथ ही गत सप्ताह शुक्रवार को आईसीआईसीआई बैंक के आये खराब वित्तीय परिणाम से भी बाजार पर दबाव बढ़ा।

बैंक की गैर निष्पादित परिसंपत्ति में भारी बढ़ोतरी के कारण 31 मार्च को समाप्त तिमाही में उसका मुनाफा 87 प्रतिशत कम हो गया। कमजोर बाजार धारणा के बीच सेंसेक्स 41.18 अंक गिरकर 25565.44 अंक पर खुला और यही इसका दिवस का उच्चतम स्तर भी रहा। दोपहर से पहले ही यह 25341.14 अंक के दिवस के निचले स्तर तक उतर गया। पूरे दिन लाल निशान में रहता हुआ बाजार बंद होते समय गत कारोबारी दिवस की तुलना में 0.66 प्रतिशत यानी 169.65 अंक टूटकर 12 अप्रैल के बाद के निचले स्तर 25436.97 अंक पर रहा।

निफ्टी भी 27.10 अंक लुढ़ककर 7822.70 अंक पर खुला। दोपहर से पहले 7777.30 अंक के दिवस के न्यूनतम तथा दोपहर के तुरंत बाद 7829.80 अंक के उच्चतम स्तर को छूता हुआ 0.56 प्रतिशत अर्थात् 43.90 अंक फिसलकर 12 अप्रैल के बाद के निचले स्तर 7805.90 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की 30 में से 18 कंपनियों में बिकवाली का जोर रहा। आईसीआईसीआई बैंक के शेयर सर्वाधिक 4.08 फीसदी टूटे। बड़ी कंपनियों के उलट मझौली तथा छोटी कंपनियों में लिवाली रही। बीएसई का मिडकैप 1.10 प्रतिशत तथा स्मॉलकैप 0.39 प्रतिशत चढ़कर क्रमश: 11164.40 अंक तथा 11063.86 अंक पर रहा। बीएसई में कुल 2728 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1321 में गिरावट तथा 1290 में बढ़त रही जबकि 117 में कोई बदलाव नहीं हुआ।

Related Posts: