sensexमुंबई, खुदरा महँगाई बढ़ने और औद्योगिक उत्पादन वृद्धि के चार महीने के निचले स्तर पर आने से निराश निवेशकों की बिकवाली से आज बीएसई का सेंसेक्स 256 अंक लुढ़ककर डेढ़ महीने और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 63 अंक फिसलकर दो महीने के निचले स्तर पर आ गया। दिवाली के दिन मुहूर्त कारोबार को छोड़ दिया जाये तो पिछले छह पूर्ण कारोबारी दिवसों पर बाजार में गिरावट देखी गयी है। विदेशी बाजार भी पूरी तरह से लाल निशान में रहे जिससे भारतीय बाजारों पर दबाव दोहरा हो गया।

सरकार द्वारा कल जारी आँकड़ों के अनुसार, खुदरा महँगाई बढ़कर पाँच प्रतिशत पर पहुँच गयी जबकि औद्योगिक उत्पादन में चार महीने की सबसे कमजोर 3.6 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी थी। दोनों आँकड़ों के कमजोर रहने से बाजार में बिकवाली का जोर इस कदर रहा कि बीएसई के उपभोक्ता उत्पादों और धातु समूह को छोड़कर शेष सभी 11 समूहों में 1.97 प्रतिशत तक की गिरावट देखी गयी। सेंसेक्स की 30 में से 22 कंपनियों में लिवाली का जोर रहा। वेदांता ने 4.23 फीसदी और सिप्ला ने 3.76 फीसदी का नुकसान उठाया।

Related Posts: