BSEमुंबई. बाजार के लिए जुलाई सीरीज की शुरुआत कमजोरी के साथ हुई है। कमजोर ग्लोबल संकेतों के चलते आज घरेलू शेयर बाजारों में दबाव देखने को मिला है। चीन के बाजार में आज 7 फीसदी की जोरदार गिरावट दर्ज की गई है। सेंसेक्स और निफ्टी में 0.25 फीसदी तक गिरकर बंद हुए हैं।

मिडकैप शेयरों में भी आज कमजोरी ही रही लेकिन कारोबारी दिन के आखिरी घंटे के समय यहां थोड़ी रिकवरी देखने को मिली। सीएनएक्स मिड़कैप इंडेक्स 0.1 फीसदी बढ़कर 13065 पर बंद हुआ है। वहीं बीएसई के स्मॉलकैप इंडेक्स में 0.15 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है।

कैपिटल गुड्स, मेटल, ऑयल एंड, बैंकिंग और पावर शेयरों में बिकवाली से आज बाजार दबाव बना है। बैंक निफ्टी 0.5 फीसदी से ज्यादा टूटकर 18384.4 पर बंद हुआ है। वहीं बीएसई के कैपिटल गुड्स, मेटल, ऑयल एंड और पावर इंडेक्स में 1.1-0.6 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। हालांकि आईटी, रियल्टी और ऑटो शेयरों में अच्छी खरीदारी का रुझान है। बीएसई का आईटी इंडेक्स 1.4 फीसदी तक बढ़कर बंद हुआ है। सेंसेक्स 84 अंक यानि 0.3 फीसदी की गिरावट के साथ 27812 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं एनएसई का निफ्टी 17 अंक यानि 0.2 फीसदी की कमजोरी के साथ 8381 के स्तर पर बंद हुआ है। आज के कारोबार में दिग्गज शेयरों में गेल, केर्न इंडिया, वेदांता, बीएचईएल, भारती एयरटेल और एचडीएफसी जैसे दिग्गज शेयर 3.2-1.6 फीसदी की कमजोरी के साथ बंद हुए हैँ। हालांकि एचसीएल टेक, अल्ट्राटेक सीमेंट, टीसीएस, बजाज ऑटो, एनटीपीसी, इंफोसिस और सिप्ला जैसे दिग्गज शेयर 3.4-1.32 फीसदी तक मजबूत होकर बंद हुए हैं।

मिडकैप शेयरों में सीसीएल इंटरनेशनल, चेन्नई पेट्रो, मोनसैंट इंडिया, ओरिएंटल बैंक और डीसीएम श्रीराम सबसे ज्यादा 10-3.3 फीसदी तक लुढ़ककर बंद हुए हैं। हालांकि वेस्टलाइफ डेवलपमेंट, इंडिया सीमेंट, बीएफ यूटिलिटीज, एसआरएफ और टीवी18 ब्रॉडकास्ट जैसे मिडकैप शेयर 12.1-5.9 फीसदी तक बढ़कर बंद हुएह हैं।

Related Posts: