shivrajभोपाल, 26 अप्रैल. प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा वह कांग्रेस प्रमुख को पत्र लिखने के साथ ही उनसे यह पूछने के लिए मिलने का समय भी लेंगे कि क्या सोनिया गांधी ने अपने पार्टी के नेताओं विशेषकर पार्टी महासचिव दिग्विजय सिंह को आधारहीन एवं झूठे आरोपों के जरिए उनकी एवं उनके परिवार की छवि धूमिल करने पर सहमति दी है.

मुख्यमंत्री ने कहा उच्च न्यायालय ने विशेष जांच दल (एसआईटी) की रिपोर्ट पर सहमति देकर दिग्विजय सिंह की सच्चाई उजागर कर दी है. जिन दस्तावेजों के आधार पर दिग्विजय मेरी छवि पर कीचड़ उछालने का अभियान चला रहे थे, वे कूटरचित निकले.

मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय ने दो दिन पहले ही एसआईटी की उस रिपोर्ट पर अपनी रजामंदी दी है, जिसमें उसने सायबर एक्सपर्ट मिस्टर एक्स (कोर्ट के रिकार्ड के अनुसार) द्वारा दिल्ली उच्च न्यायालय में प्रस्तुत पैन ड्राइव एवं एक्सल शीट को फर्जी एवं कूटरचित करार दिया था. दिल्ली उच्च न्यायालय के सामने अपनी जान पर खतरे की बात करते हुए इस सायबर एक्सपर्ट मि. एक्स ने पैन ड्राइव में मौजूद एक्सल शीट की वास्तविकता का दावा किया था.

Related Posts: