दिन भर की भागदौड़ के बाद जब हम थके-हारे घर लौटकर आते है तो आराम करने के लिए बिस्तर की तलाश करते है, ताकि शरीर की थकान दूर हो सकें. जब बिस्तर पर लैट जाते है तो नींद नहीं आती है और सारी रात बैठकर काटनी पड़ती है. दरअसल, इसके पीछे भी हमारी ही गलती है. सोने से पहले हम लोग अक्सर ऐसी गलतियां कर बैठते है, जिस वजह से हमारी नींद भाग जाती है और रात ऐसे ही करवटे लेकर गुजारनी पड़ती है.

आज हम आपको उन्हीं गलतियों के बारे में बताने जा रहे है, जिनमें सुधार करना बहुत जरूरी है, तभी आप अच्छी नींद और सुकून से रह सकते है.

स्मार्टफोन या लैपटॉप

अक्सर देखा जाता है कि बिस्तर पर लैटते ही हम लोग स्मार्टफोन या लैपटॉप खोलकर बैठ जाते है, जिस वजह से नींद उड़ जाती है. इसलिए बेहतर नींद पाना चाहते है तो रात के सोने से पहले ऐसी गलती न करें.

कसरत या वर्कआउट

सोने से पहले कसरत भी न करें क्योंकि इससे भी आपकी नींद भाग सकती है. अगर आप कसरत करना ही चाहते है तो सोने से 2 घंटा पहले करें. इससे आपको गहरी और चैन की नींद आएगी.

सोने से पहले टीवी देखना

कभी भी सोने से पहले टीवी न देखें क्योंकि हम टीवी देखने में इतने मस्त हो जाते है कि हमारी नींद भी गायब हो जाती है.

कमरे का तापमान

अगर आप कमरे का तापमान अधिक रख़ते है तो भी आपकी नींद खराब हो सकती है. इसलिए सोने से पहले कमरें का तापमान कम रखें क्योंकि इससे रात को शरीर का तापमान गिरता और नींद भी अच्छी आती है.

स्टडी करके तुंरत सोना

अगर आप रात को पढऩे-लिखने के बाद तुरंत सो जाते है तो अपनी इस आदत में सुधार लाएं. क्योंकि सोते समय भी हमारा दिमाग उसी में उलझा रहता है और इसी वजह से नींद नहीं आती. इसलिए सोने से 1-2 घंटा पहले ही सारे काम निपटाएं और बाद में सो जाएं.

दवाईयां

अगर सोने से पहले रोजाना किसी दवाई का सेवन करते है तो भी नींद खराब हो सकती है. इसलिए दवाई लेने से पहले अपने डॉक्टर्स से पूछे की आपकी नींद न आने की समस्या का कारण कहीं यह दवा ही तो नहीं.

Related Posts: