kejriwalवेरावल (गुजरात),  दिल्ली के मुख्यमंत्री तथा आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने उनके चिर प्रतिद्वंद्वी समझे जाने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के गृह राज्य गुजरात में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए आज से यहां अपनी पार्टी का चुनावी शंखनाद किया और राज्य में आरक्षण आंदोलन चला रहे पाटीदार अथवा पटेल समुदाय को रिझाने के लिए एक बार फिर आंदोलन के जेल बंद नेता हार्दिक पटेल का खुलेआम समर्थन किया।

श्री केजरीवाल ने यहां सोमनाथ मंदिर में दर्शन पूजन के बाद अपने स्वागत में आयोजित एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आने वाले एक से दो माह में आप गुजरात में एक बडी रैली का आयोजन करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि वह अगले साल के विधानसभा चुनाव के दौरान घर घर जाकर प्रचार करेंगे।
उन्होंने कहा कि वह बार-बार गुजरात आयेंगेे। आगामी विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी उम्मीदवारों को मैदान में उतारेगी।

उन्होंने एक बार फिर हार्दिक कार्ड खेलते हुए कहा कि भाजपा की सरकार आरक्षण की मांग उठाने पर 23 साल के हार्दिक पटेल पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज करा देती है पर उस व्यक्ति (पद से हटाये गये महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री एकनाथ खडसे) जो दाउद इब्राहिम से बात करता है उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करती।

श्री केजरीवाल ने दावा किया कि गुजरात के किसान दु:खी है और उन्हें उचित मुआवजा नहीं मिलता जबकि दिल्ली में उनकी सरकार सभी किसानों को ईमानदारी पूर्वक मुआवजा दे रही है। राज्य के व्यवसायी भी सरकार से खुश नहीं है क्योंकि सरकार ने बार बार के आग्रह के बावजूद उत्पाद शुल्क में राहत की उनकी मांग को दरकिनार कर दिया।

उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य की सरकार भ्रष्टाचार में लिप्त है। इससे पूर्व राजकोट से साेमनाथ आते समय श्री केजरीवाल ने पारडी गांव में एक फार्महाउस, जहां वह थोडे समय के लिए रूके थे, पत्रकारों से संक्षिप्त बातचीत में कहा कि उनका दस जुलाई का प्रस्तावित सूरत दौरा गुजरात की मुख्यमंत्री की ओर से आयोजकों पर बनाये गये दबाव के कारण रद्द किया गया है। उन्होंने इसे लोकतंत्र से प्रतिकूल प्रवृत्ति करार दिया।

इस अवसर पर उनकी पत्नी श्रीमती सुनीता केजरीवाल ने कहा कि वह सोमनाथ के दर्शन के लिए आयी हैं। उन्होंने सोमनाथ मंदिर का बहुत नाम सुना है और पहली बार दर्शन पूजन के लिए आयी हैं।

Related Posts: