छिंदवाड़ा,  छिंदवाड़ा जिला मुख्यालय से करीब 100 किलोमीटर दूर जनपद हर्रई की बारगी सोसाइटी में आज दोपहर बाद अचानक आग लगने से 13 लोगों की घटना स्थल पर ही मौत हो गई. वही दर्जनों ग्रामीण आग में झुलस गए जिन्हें उपचार के लिए छिंदवाड़ा और नरसिंहपुर के जिला अस्पताल भेजा गया है.

हादसे में सोसाइटी के प्रबंधक व सैल्समैन की भी मौत हो गई है. बताया जाता है कि यहां पर 4 ड्रम तेल रखा हुआ था. तापमान 43 डिग्री होने से संभवत: गैस बनी होगी जिससे यह हादसा हुआ. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मोहनखेड़ा में घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया है. साथ ही उन्होंने जिले के प्रभारी मंत्री गौरीशंकर बिसेन को मोहनखेड़ा से तत्काल घटनास्थल पर रवाना कर दिया.

घटना के संबंध में बताया गया कि बारगी सोसाईटी में आज सार्वजनिक वितरण प्रणाली में ग्रामीण अनाज और केरोसिन लेने आए थे. इस सोसाइटी से आसपास के करीब 13ग्रामों के ग्रामीणों को हर माह राशन दिया जाता है. आज सोसाईटी में अनाज लेने ग्रामीणोंं की लंबी कतार लगी थी वहीं ग्रामीण सोसाईटी के गोदाम मेंं भी खड़े थे इस गोदाम में अनाज के साथ केरोसिन के ड्रम भी रखे थे अचानक ही इस गोदाम में आग भड़क गई और गोदाम में मौजूद सभी ग्रामीण आग से झुलस गए जिनमें 13 ग्रामीणों की मौत होना बताया जा रहा है.

हालांकि जिला प्रशासन ने अभी मृतकों को अधिकृत आंकड़ा नहीं बताया है. घटना की खबर पर कलेक्टर जेके जैन, एसपी गौरव तिवारी, एसडीएम केसी बोपचे सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी घटना स्थल पर रुके हुए हैं. बारगी सोसाईटी हर्रई से कुछ दूरी पर है. यहां आग बुझाने के कोई इतंजाम नहीं थे. घटना की खबर पर हर्रई थाने क ा स्टॉफ मौके पर पहुंचा और मृतकों को बाहर निकाला और आग से झुलसे लोगों को छिंदवाड़ा और नरसिंहपुर जिला अस्पताल भेजा है.

Related Posts: