arunनोएडा,  वित्त मंत्री अरुण जेटली ने स्टैंडअप इंडिया स्कीम को पिछड़े और कमजोर वर्ग के लोगों और महिलाओं में उद्यमशीलता को बढ़ावा देने वाला सशक्त माध्यम बताया और कहा कि स्कीम के जरिये इन वर्गों से ढाई लाख उद्यमी तैयार होंगे।

श्री जेटली ने आज यहां स्टैंडअप इंडिया के शुभारंभ के मौके पर कहा, “अनुसूचित जाति, जनजाति और महिलाओं में उद्यमशीलता को बढ़ावा देने के उद्देश्य से शुरू की जा रही यह योजना देश में सामाजिक बदलाव का कारक बनेगी। इसके जरिये इस वर्ग के लोग खुद का कारोबार शुरू कर सकेंगे।

 

Related Posts: