kashmirश्रीनगर,   उत्तरी कश्मीर के हिंसा प्रभावित हंदवाड़ा शहर में आज स्थानीय निकाय अधिकारियों ने मुख्य बाजार से सुरक्षा बलों के तीन बंकर हटाए. स्थानीय निवासी लंबे समय से इन बंकरों को हटाने की मांग कर रहे थे.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया हंदवाड़ा मुख्य बाजार में दुकानों की छत पर निर्मित तीन बंकरों को स्थानीय निकाय अधिकारियों ने हटा दिया है. मुख्य बाजार के मध्य में बनाए गए मुख्य बंकर को भी खाली करा लिया गया है और उसे स्थानीय निकाय अधिकारियों ने अपने कब्जे में ले लिया है.

अधिकारी ने बताया यह बंकर भी तोड़ा जाएगा. स्थानीय निकाय अधिकारियों ने बंकर के परिसरों में एक तख्ता लगा दिया है, जो इस बात का परिचायक है कि इस जगह को सार्वजनिक पार्क में बदला जाएगा. स्थानीय निवासी लंबे समय से इन बंकरों को हटाने की मांग कर रहे थे, लेकिन सेना ने यह कहते हुए ऐस करने से मना कर दिया था कि यह सैनिकों के लिए रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण हैं.
हंदवाडा चौक पर ही 12 अप्रैल को प्रदर्शन के दौरान सेना की गोलीबारी में एक महिला समेत तीन लोग मारे गये थे. इसके बाद 13 और 15 अप्रैल को जिले में सुरक्षा बलों की गोलीबारी में दो और लोग मारे गये थे. व्यापक विरोध के बाद 22 साल से भी अधिक समय बाद इस बंकर को हटाया गया है.

सेना द्वारा आज बंकर खाली किये जाने के बाद जिला प्रशासन ने इस हटा दिया. जब बंकर हटाया जा रहा था तो उस समय ब?ी संख्या में स्थानीय निवासी वहां एकत्र थे, जो खुशियां मना रहे थे.

कुपवाडा के उपायुक्त कुमार राजीव रंजन ने कहा कि हमने जिले में पूरी स्थिति की समीक्षा करने का फैसला किया है. 90 के दशक में स्थिति पूरी तरह से अलग थी और उस समय जिले में सुरक्षा बलों और पुलिस के बंकरों की जरूरत थी, लेकिन अब स्थिति बदल गई है. हम उन बंकरों को हटाने का प्रयास करेंगे जिनकी अब जरूरत नहीं है.

Related Posts: