पुलिस ने संभाला मोर्चा स्थिति नियंत्रण में

नवभारत न्यूज सतना,

जिले के मैहर क्षेत्र में शुक्रवार को दो पक्षों के बीच हुए विवाद के बाद हालात बेकाबू हो गए. कई जगह से आगजनी व तोडफ़ोड़ की खबरें आने लगीं. हलांकि जिले भर से अतिरिक्त पुलिस बल बुलाकर स्थिति पर किसी तरह नियंत्रण पा लिया गया.

मामला मैहर की पुरानी बस्ती और कटरा बाजार से शुरु हुआ जहां पर समुदाय विशेष के तकरीबन आधा सैकड़ा लोग बाइक रैली निकालते हुए आपत्तिजनक नारे लगा रहे थे. इसकी जानकारी मिलने पर स्थानीय जिला संयोजक बंजरंग दल महेश तिवारी घंटाघर चौराहे पहुंचे, जहां पर उन्होंने इसका विरोध जताया.

लेकिन बाइक रैली व जुलूस में शामिल कुछ लोगों ने महेश के साथ मारपीट करते हुए उन्हें लहुलुहान कर दिया. इसके बाद जुलूस में शामिल युवकों ने चौराहे पर स्थित एक फोटो स्टूडियो सहित कुछ अन्य कुछ फुटकर व्यवसाइयों का सामान तहस-नहस करते हुए आगजनी शुरु कर दी.

देखते ही देखते यह खबर आग की तरह पूरे शहर में फैल गई और दो पक्ष एक दूसरे के आमने सामने आ गए. घटना की सूचना मिलते ही एसडीओपी मैहर अरविंद तिवारी और थाना प्रभारी अशोक पाण्डेय ने लगभग आधा सैकड़ा पुलिस बल के साथ मोर्चा संभाला.

हालात को देखते हुए मामले की सूचना उच्चाधिकारियों को देते हुए अतिरिक्त पुलिस बल की मांग की गई. वहीं कलेक्टर मुकेश शुक्ल, अपर कलेक्टर जेपी धुर्वे व पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर मैहर से पल-पल अपडेट लेते रहे.

लेकिन कुछ ही देर बाद एसपी ने स्वयं मोर्चा संभालते हुए मैहर का रुख किया. एसपी ने मैहर पहुंच कर प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करते हुए हालात सामान्य होने की जानकारी साझा की. एसपी के अनुसार फिलहाल मैहर में पूरी तरह से शांति है.

छोटे से विवाद के चलते दो पक्ष एकत्रित हो गए थे. इसकी सूचना मिलते ही पुलिस ने मोर्चा संभालते हुए स्थिति को पूरी से नियंत्रण में ले लिया. घटना के लिए जिम्मेदार लोगों व असामाजिक तत्वों पर प्रकरण दर्ज करते हुए सख्त कार्रवाई की जाएगी.

Related Posts: