haryanaचंडीगढ़,  हरियाणा में जाट समुदाय को सरकारी सेवाओं एवं शैक्षणिक संस्थाओं में दाखिले में आरक्षण के दायरे में लाने के उद्देश्य से आज राज्य विधान सभा ने हरियाणा पिछड़ा वर्ग (सेवाओं तथा शैक्षणिक संस्थानों में दाखिले में आरक्षण) विधेयक, 2016 को सर्वसम्मति से पारित कर दिया।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने हरियाणा पिछड़ा वर्ग (सेवाओं तथा शैक्षणिक संस्थानों में दाखिले में आरक्षण) अधिनियम, 2016 लागू करके पिछड़ा वर्ग ब्लाक ‘ए’, पिछड़ा वर्ग ब्लॉक ‘बी’ तथा पिछड़ा वर्ग ब्लॉक ‘सी’ को वैधानिक दर्जा देने के उद्देश्य से यह विधेयक पेश किया और केन्द्र सरकार से इस अधिनियम को संविधान के अनुच्छेद 31ख के साथ पठित 9वीं अनुसूची में शामिल करने का आग्रह किया है। मुख्यमंत्री ने पहले ही यह आश्वासन दे दिया था कि यह विधेयक विधानसभा के चालू सत्र के दौरान लाया जाएगा।

Related Posts: