bpl2भोपाल,  प्रत्येक कॉलेज में कम से कम एक नियमित सहायक प्राध्यापक या प्राध्यापक पदस्थ किया जायेगा. उच्च एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने इस संबंध में जरूरी कार्यवाही के निर्देश दिये हैं.

गुप्ता ने कहा है कि जिन शहरों में एक से अधिक कॉलेज हैं वहां विषयों का युक्तियुक्तकरण करें. इसके बाद छात्र एवं प्राध्यापक का अनुपात निकालें. उन्होंने कहा कि इसी अनुपात के आधार पर स्थानांतरण किये जायेंगे। स्थानांतरण के लिये आवेदन ऑनलाइन बुलवाये जायेंगे. संबंधित कॉलेज में पदस्थापना की वरिष्ठता के आधार पर स्थानांतरण किये जायेंगे.

गुप्ता ने कहा है कि जहाँ अधिक विद्यार्थी हैं वहां नियमित फेकल्टी को रखा जायेगा. साईंस कॉलेज में साईंस विषय के ही प्राचार्य पदस्थ किये जायेंगे. तकनीकी शिक्षण संस्थाओं में प्रभारी प्राचार्य तकनीकी विषयों के सीनियर प्रोफेसर को बनाया जायेगा.

बैठक में प्रमुख सचिव तकनीकी शिक्षा संजय सिंह और अपर संचालक उच्च शिक्षा उपस्थित थे.

Related Posts: