bpl1भोपाल,  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है प्रदेश में कोई भी खेत बिना पानी के नहीं रहेगा.हर जिले की सिंचाई योजना बनेगी.हर खेत को पानी देने में मध्यप्रदेश देश में उदाहरण प्रस्तुत करेगा.

मुख्यमंत्री आज यहाँ प्रशासन अकादमी में प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना में जिलों के सिंचाई प्लान बनाने संबंधी दो दिवसीय कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे.कार्यशाला किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग द्वारा की गयी है. चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के क्रियान्वयन में भी देश में पहले नंबर पर रहेगा.उन्होंने सभी जिलों का सिंचाई प्लान बनाने के निर्देश दिए. इस अवसर पर मुख्य सचिव अंटोनी डिसा, अपर मुख्य सचिव जल संसाधन आर.एस. जुलानिया, भारत सरकार के संयुक्त सचिव आर.वी. सिन्हा, महानिदेशक प्रशासन अकादमी श्रीमती कंचन जैन, प्रमुख सचिव कृषि डॉ. राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव उद्यानिकी अशोक वर्णवाल, संचालक कृषि एम.एल मीणा उपस्थित थे.

छोटी योजना को प्रोत्साहन
मुख्यमंत्री ने कहा कि हर गाँव में छोटी सिंचाई योजनाओं को प्रोत्साहन मिलेगा.पुरानी जल संरचनाओं को दोबारा जीवित करने के जलाभिषेक अभियान को निरंतर जारी रखा जाएगा.इससे जल-स्तर बढ़ेगा और सिंचाई के लिए भी पानी मिलेगा.हर गाँव में सिंचाई और पीने के पानी की कम से कम एक जल संरचना या स्त्रोत उपलब्ध होगा.

Related Posts: