नयी दिल्ली,

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज कहा कि वर्ष 2017-18 के दौरान पिछले पांच साल में सर्वाधिक सड़कें बनीं है और जिस गति से यह कार्य चल रहा है उसे देखते हुए प्रतिदिन 40 किलोमीटर सड़क निर्माण का लक्ष्य इसी साल हासिल कर लिया जाएगा।

श्री गडकरी ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि 2017-18 के दौरान 17055 किमी सड़कों के निर्माण का ठेका दिया गया और 9829 किमी सड़कें बनकर तैयार हुई हैं।

पिछले पांच साल में इस अवधि में सबसे ज्यादा सड़कों के निर्माण का काम पूरा हुआ है। इससे पहले 2016-17 में 8231 किमी, 2015-16 में 6061 किमी, 2014-15 में 4410 किमी तथा 2013-14 में 4260 किमी सड़कों का निर्माण कार्य पूरा किया गया।

उन्होंने कहा कि सरकार का लक्ष्य हर दिन 40 किमी सड़कों का निर्माण करना है और इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए गुणवत्ता के साथ काम की गति बढायी जा रही है।

उनका कहना था कि अब तक 27 किमी सड़क का निर्माण प्रति दिन किया जा रहा है और 40 किमी निर्माण का लक्ष्य इसी साल हासिल कर लिया जाएगा। एक सवाल पर उन्होंने कहा कि 2014 में जब उन्होंने इस मंत्रालय का कार्यभार संभाला था उस समय रोज 11 किमी सड़कों का निर्माण किया जा रहा था।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सड़क निर्माण लेन के मानक को अगले साल से अंतरराष्ट्रीय स्तर का बनाया जाएगा। अब तक एक राजमार्ग पर यदि आठ लेन की सड़क 100 मीटर तक बनती है तो सभी आठ लेनों के निर्माण कार्य को सिर्फ 100 मीटर सड़क निर्माण ही गिना जाता था जबकि अंतरराष्ट्रीय मानक में इसे 800 मीटर माना जाता है।

उन्होंने कहा कि हमारे यहां लेन 3.5 मीटर की होती है जबकि अमेरिका में 3.7 मीटर, यूरोपीय देशों में 2.75 से 3.25 मीटर तथा जर्मनी में 3.5 मीटर है।