rahulनई दिल्ली,  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर किसानों से मिलने और उनकी पीड़ा सुनने का समय नहीं होने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस ने भूमि विधेयक पर लड़ाई को राज्यों में ले जाने की घोषणा की।

विपक्षी पार्टी ने मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि भूमि विधेयक को लेकर केंद्र में विफल रहने के बाद वह इसके प्रावधानों को भाजपा शासित राज्यों के जरिये लाने का प्रयास कर रही है। यहां रामलीला मैदान में किसान सम्मान रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने विवादास्पद भूमि अध्यादेश को किसी भी रूप में लाने के प्रयास के खिलाफ पूरी ताकत से लडऩे का संकल्प व्यक्त किया और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के उन आरोपों को खारिज कर दिया जिसमें उन्होंने कहा था कि कांग्रेस विकास का मार्ग अवरूद्ध कर रही है। मोदी पर लोकसभा चुनाव में किये गए वादों को पूरा नहीं करने और सत्ता में आने पर खोखली बातें करने का आरोप लगाते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री के पास किसानों से मिलने और उनकी समस्याओं का समाधान निकालने के लिए समय नहीं है.

Related Posts: