hardikअहमदाबाद/गांधीनगर,  अगवा किये जाने के दावे के साथ बड़े ही नाटकीय अंदाज में कल रात मीडिया के सामने हुए पेश हुए पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पास) के संयोजक हार्दिक पटेल और उनके वकील को गुजरात उच्च न्यायालय ने आज कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि अगर उन्हें अगवा किया गया था, उन्हें रिहाई के बाद सबसे पहले अदालत में पेश होना चाहिए था न कि मीडिया के सामने.

गुजरात में पटेल अथवा पाटीदार समुदाय को आरक्षण दिलाने की मांग को लेकर आंदोलनरत ‘पास’ के संयोजक हार्दिक पटेल पेशी के लिए अपने वकील के साथ आज उच्च न्यायालय पहुंचे.

Related Posts: