hardikउदयपुर,  पाटीदार आरक्षण आंदोलन के जरिये गुजरात की राजनीति में तूफान लाने वाले नेता हार्दिक पटेल के अगले छह माह तक उदयपुर में रहने की सूचना से राजस्थान की राजनीति में हलचल बढ़ गयी है।

श्री पटेल द्वारा यहां कांग्रेस पार्टी के पूर्व विधायक एवं राजस्थान पटेल समाज के अध्यक्ष पुष्कर लाल के यहां रहने की चर्चाओं से यह प्राय: स्पष्ट प्रतीत होता है कि इससे यहां का पटेल समाज का राजनीतिक झुकाव कांग्रेस पार्टी की तरफ हो सकता हैं। इसके अलावा मेवाड के जनजाति क्षेत्र में एक दशक से ठंडा पडा अन्य पिछडा वर्ग (ओबीसी) आरक्षण का मुद्दा भी फिर से गरम हो सकता हैं।

उल्लेखनीय है कि आदिवासी बहुल उदयपुर संभाग में उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाडा, चित्तौडगढ़, राजसमंद एवं प्रतापगढ़ जिलों में पाटीदार, पटेल, डांगी और विशेष पिछडा वर्ग की पांच जातियों की 10 लाख से अधिक आबादी ओबीसी आरक्षण लागू करने की मांग कर रही हैं।

न्यायालय ने राज्यद्रोह के मामले में गत नौ माह से सूरत की जेल में बंद श्री पटेल को जेल से रिहा होने के लिए छह माह तक गुजरात से बाहर रखने की शर्त पर कल रिहा किया था। श्री पटेल ने न्यायालय में इस दौरान उनके ठहरने के स्थान का पता उदयपुर में धाउजी की बाडी स्थित मकान नंबर 190 का दिया है जो कांग्रेस के पूर्व विधायक पुष्कर लाल डांगी का हैं।

सूत्रों के अनुसार आर्दिक पटेल के कल शाम तक उदयपुर पहुंचने की संभावना हैं। हार्दिक पटेल के उदयपुर में रहने और यहां से गुजरात में आरक्षण आंदोलन चलाने की रणनीति बनाने से यहां पुलिस एवं प्रशासन में हलचल शुरू हो गयी हैं।

Related Posts: