लुधियाना,  आम आदमी पार्टी के स्टार प्रचारक एवं संयोजक अरविंद केजरीवाल ने पंजाब के उप मुख्यमंत्री सुखबीर बादल को चुनौती है कि बेअदबी की जांच के लिये गठित जोरा सिंह कमीशन की रिपोर्ट एक घंटे के भीतर जारी हो अन्यथा हम उसेे जारी कर देंगे ।

अकाली दल तथा कांग्रेस की आेर से लगातार जारी हमलोें पर पलटवार करते हुये श्री केजरीवाल ने आज यहां प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि मालवा क्षेत्र के फरीदकोट जिले के बरगाड़ी मेें गुरू ग्रंथ साहिब की बेअदबी करने के मामले शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे लोगोें पर सरकार के इशारे पर गोलियां चलायी गई क्योंकि प्रदर्शन सरकार के खिलाफ था। यह घटना सितंबर 2015 की थी ।

उन्होेंने बताया कि पुलिस ने सरकार के इशारे पर प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाई जिसमें दो युवक मारे गये तथा कई घायल हुये थे । चौतरफा दवाब के चलते सरकार ने पुलिस जांच के बाद जोरा सिंह कमीशन गठित किया तथा उसने जो रिपोर्ट दी वह सरकार के खिलाफ थी । वो किसी तरह हमारे हाथ लग गयी है । यह रिपोर्ट इसलिये दबाई गयी है ताकि इनकी करतूत सामने न आ सके ।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने सुखबीर बादल को कुख्यात अपराधी करार देते हुये कहा कि या तो सुखबीर बादल उस रिपोर्ट को जारी करेेंं अन्यथा हम उसे जारी करने जा रहे हैं ।बादलोें को मालूम था कि सत्ता में रहने के लिये सिख भाईचारे में फूट डालना जरूरी है अन्यथा सत्ता हाथ से जा सकती है ।

इनका एक ही मकसद है कि किसी तरह कुर्सी न जाये। उन्होंने कहा कि पंजाब का दुर्भाग्य है कि श्री बादल पंजाब के उपमुख्यमंत्री हैं । बादल अब बेनकाब हो गये हैं तथा लोग इनका सफाया करने जा रहे हैं जिसे कोई नहीं बचा सकता । उनके साथ पार्टी के नेता एचएस फूलका भी थे।

Related Posts: