fifaफार्तोदा, 22 अक्टूबर (वार्ता) कोच्चि और नवी मुंबई के बाद अब गोवा को भी अंतरराष्ट्रीय फुटबाल महासंघ(फीफा) से अगले वर्ष अंडर 17 फुटबाल विश्वकप मैचों के आयोजन के लिये हरी झंडी मिल गयी है।

भारत दौरे पर आये फीफा के 13 सदस्यीय दल ने स्थानीय आयोजन समिति (एलअोसी) के साथ शनिवार को गोवा का दौरान किया और विश्वकप के लिये तैयारियों का जायजा लेने के बाद मैचों के यहां आयोजन को अपनी स्वीकृति दे दी।

दौरे के बाद फीफा और एलओसी अधिकारियों ने गोवा के स्टेडियमों और ट्रेनिंग सेंटरों में हुये काम पर संतोष जताया। गोवा तीसरा शहर है जिसे फीफा से हरी झंडी मिली है। इससे पहले केरल के कोच्चि और महाराष्ट्र के नवी मुंबई को फीफा ने अंडर-17 टूर्नामेंट के मैचों की मेजबानी के लिये चुना है।

टूर्नामेंट के निदेशक जेवियर सेप्पी ने कहा“ गोवा में एएफसी अंडर-16 चैंपियनशिप आयोजित हुई थी अौर यहां इसके अनुसार आधारभूत ढांचा तैयार किया गया। इससे हमें गोवा को चुनने में मदद मिली। अब वक्त आ गया है जब विश्वकप के लिहाज से तैयारियों पर पूरा ध्यान केंद्रित किया जाए।”

इस मौके पर यहां गोवा के खेल मंत्री रमेश तवादकर, अखिल भारतीय फुटबाल संघ के उपाध्यक्ष जॉय भट्टाचार्य और प्रोजेक्ट निदेशक ट्रेसी लू मौजूद थे। लू ने तैयारियों की समीक्षा के बाद कहा“ हमने आखिरी बार फरवरी में इस जगह का दौरा किया था और हम यहां पिछले छह महीने में किये गये काम से संतुष्ट हैं। यह जगह मेजबानी के लिये चुने जाने की हकदार है।”

फीफा का दल अब नयी दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम का दौरा करेगी।

Related Posts: