trump_obamaवाशिंगटन,  अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और नवविर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने चुनाव प्रचार के दौरान अपनी सभी कड़वाहटों को भुलाते हुये कल एक मुलाकात के दौरान आगामी बीस जनवरी को नेतृत्व परिवर्तन संबंधी मामलों पर विचार किया। राष्ट्रपति भवन व्हाइट हाउस के ओवल आॅफिस में दोनों नेताओं ने सहयोगियों की गैरमौजूदगी में लगभग डेढ घंटे तक बातचीत की और विभिन्न मुद्दों पर विचार विमर्श किया।

गौरतलब है कि श्री ओबामा ने अपनी पार्टी की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन के समर्थन में श्री ट्रम्प के खिलाफ जबरदस्त प्रचार किया था और बार बार अपने संबोधन में श्री ट्रम्प को राष्ट्रपति कार्यालय के अयोग्य बताया था जबकि उद्योग जगत की हस्ती श्री ट्रम्प ने मौजूदा राष्ट्रपति के आठ वर्ष के कार्यकाल को एक आपदा की संज्ञा दी थी लेकिन चुनावी नतीजों के पूरा परिदृश्य बदल गया है और कल दोनों नेताओं ने देश को आगे बढ़ाने के मुद्दों पर आपस में विचार विमर्श किया।

इस बातचीत के बाद श्री ओबामा से अगली सीट पर बैठे श्री ट्रम्प ने पत्रकारों को बताया“ हमने वास्तव में काफी मुद्दों और परिस्थतियों पर विचार किया जिनमें कुछ आश्यचर्यजनक और कुछ कठिन विषय हैं । श्री ओबामा ने उन विभिन्न मुद्दों पर विस्तृत की जिन्हें हासिल किया जा चुका है।श्री ओबामा के साथ होना मेरे लिये सम्मान की बात है और मैं चाहता हूं कि वे भविष्य में भी बार बार मुझे सलाह देते रहें।”

श्री ओबामा ने पत्रकारों को बैठक के बारे में बताया “ हम वह सब कुछ करना चाहते हैं जो आपके लिये मददगार होगा क्योंकि अगर आप सफल होते हैं तो देश भी सफल होगा”। इसके बाद श्री ट्रम्प ने कल ट्विट किया “ राष्ट्रपति श्री ओबामा के साथ पहली बार मुलाकात ,एक बहुत अच्छा दिन वास्तव से एक बहुत अच्छी बैठक और बेहतरीन तारतम्य”।

चुनावी नतीजों के बाद हो रहे राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन पर श्री ट्रम्प ने यह टविट भी किया “ अब मीडिया के बरगलाने पर पेशेवर प्रदर्शनकारी सड़कों पर हैं जो बहुत ही गलत है।” बैठक के बाद व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जोस अर्नस्ट ने पत्रकारों को बताया “कुछ लोगों की अपेक्षाओं के अनुरुप यह बैठक कम से कम तकलीफदेह तो नहीं रही है।”

यह पूछे जाने पर कि श्री ट्रम्प के बारे में क्या श्री ओबामा ने कोई चिंता व्यक्त की, जैसी उन्होंने चुनाव प्रचार के दौरान की थी ,इस पर श्री अर्नस्ट ने कहा कि राष्ट्रपति अपने उत्तराधिकारी की चयन की स्थिति में कभी नहीं रहे हैं । अमेरिकी जनता ने उनका उत्तराधिकारी चुना है।

Related Posts: