kashmirश्रीनगर,   कश्मीर घाटी में अलगाववादी संगठनों की ओर बंद के आह्वान के कारण आज 106वें दिन भी जनजीवन प्रभावित रहा जबकि घाटी के किसी भी हिस्से में कर्फ्यू तथा प्रतिबंध नहीं है1

श्रीनगर की ऐतिहासिक जामिया मस्जिद की ओर जाने वाले सभी मार्गों को बंद रखा गया है तथा कल 15वें सप्ताह भी यहां जुमे की नमाज अदा करने की अनुमति नहीं दी गयी है। इस इलाके में लोगों के प्रवेश को रोकने के लिए मस्जिद के बाहर भारी संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि श्रीनगर समेत घाटी के किसी भी इलाके में कर्फ्यू अथवा प्रतिबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए एहतियातन सुरक्षा बलों तथा राज्य पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है।

अलगाववादी संगठन हुर्रियत कांफ्रेंस के दोनों धड़ों और जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) ने आत्मनिर्णय के अधिकार की मांग करने वाली हड़ताल को 27 अक्टूबर तक बढ़ाने का आह्वान किया है। इसके अलावा अलगाववादियों ने विधायकों के घरों के बाहर आज प्रदर्शन करने का आह्वान किया।

Related Posts: