japanटोक्यो,  जापान के शाही खानदान के सबसे बुजुर्ग सदस्य एवं सम्राट अकीहितो के चाचा प्रिंस मिकासा का 100 वर्ष की उम्र में आज निधन हो गया। इंपीरियल हाउसहोल्ड एजेंसी ने बताया कि सम्राट अकीहितो के पिता हीरोहितो के सबसे छोटे भाई प्रिंस मिकासा का निधन हो गया है।

प्राचीन ओरिएंटल इतिहास के विद्वान मिकासा काॅलेजों में पढ़ाते थे और उन्होंने जापान के मिडिल ईस्टर्न कल्चर सेंटर एवं जापान टर्की सोसायटी के मानद अध्यक्ष के तौर पर भी सेवाएं दी थी।

सम्राट अकीहितो (82) ने इस वर्ष अगस्त में संकेत दिए थे कि वह अपनी गद्दी छोड़ना चाहते हैं हालांकि आधुनिक जापान के वर्तमान कानून के तहत ऐसा नहीं किया जा सकता है।

उनके अलावा शाही परवार में केवल चार पुरुष उत्तराधिकारी जीवित बचे हैं जिनमें उनके एक भाई, दो बेटे और उनका इकलौता दस वर्षीय पोता हीसाहितो है। शाही खानदान में पुरुष सदस्यों की घटती संख्या के मद्देनजर महिलाओं को उत्तराधिकारी बनाने पर चर्चा शुरू हो गयी है। जापान के 2600 वर्ष पुराने राजवंश में अब तक कोई महिला सम्राट नहीं बनी है।

Related Posts: